इंडियन एयरफोर्स के विंग कमांडर ने गोली मार कर की खुदकशी..

0

एक ओर जहां वायुसेना की बहादुरी के किस्से पूरे भारत में कहे जा रहे हैं| जनता पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक से काफी खुश है| भारत की इस सफलता का पूरे देश में जश्न मनाया जा रहा है| वहीं सेना से संबंधित एक बुरी खबर भी आ रही है| दरअसल, उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में वायुसेना के विंग कमांडर (Wing Commander Arvind Sinha ) ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली है ।  

पुलिस ने बताया कि विंग कमांडर अरविंद सिन्हा (Wing Commander Arvind Sinha ) की आत्महत्या का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन कैंप के साथियों ने बताया कि वे पिछले कुछ दिनों से परिवार और नौकरी को लेकर काफी परेशान थे।

विंग कमांडर सिन्हा (Wing Commander Arvind Sinha ) सेंट्रल एयर कमांड मुख्यालय में बतौर जनसंपर्क अधिकारी तैनात थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। घटना के बाद वायुसेना के बड़े अधिकारियों ने भी हालात का जायजा लिया है। शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

अरविंद के बेटे अक्षय ने बताया, “ पापा ने बरामदे में घटना के चंद मिनट पहले भी एक फायर किया था| गोली की आवाज सुनकर वह बरामदे में पहुंचा तो देखा कि पिता बंदूक को साफ कर रहे थे। बेटे के अनुसार, पिता अक्सर बंदूक की सफाई और फायर किया करते थे इसलिए किसी तरह का शक भी नहीं हुआ। दो मिनट बाद ही दूसरा फायर हुआ और उसने जब खिड़की खोलकर बरामदे की ओर देखा तो अरविंद खून से लथपथ चारपाई पर पड़े थे। इसके बाद चीख-पुकार मची तो एयरफोर्स के दूसरे साथी व भीड़ जमा हो गई फिर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

पुलिस के अनुसार, अरविंद सिन्हा (Wing Commander Arvind Sinha ) मूलरूप से राजेंद्र नगर पटना बिहार के रहने वाले थे। यहां धूमनगंज थाना क्षेत्र के बमरौली एयरफोर्स के सरकारी आवास नार्थ कैंप में वह अपनी पत्नी पूजा व बेटे अक्षय, अर्जुन के साथ रहते थे। मंगलवार सुबह करीब आठ बजे उन्होंने अपने आवास के बरामदे में अपनी ही डबल बैरल बंदूक से खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। गोली अरविंद के गर्दन के ऊपर लगी, गोली लगते ही उनकी मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, इस मामले में पुलिस परिजनों से पूछताछ कर रही है।

धूमनगंज के इंस्पेक्टर संदीप मिश्रा ने बताया कि घटनास्थल से कारतूस का एक खोखा मिला है, जबकि दूसरा बंदूक के अंदर ही है। पड़ोसियों से पूछताछ में पता चला कि विंग कमांडर व्यक्तिगत कारणों से काफी परेशान थे। प्रथमदृष्टया आत्महत्या की ही घटना लग रही है। मामले की विवेचना जारी है|

हेलीकॉप्टर क्रैश में पर्यटन मंत्री की मौत

Foreign Ministry Press Conference Live : विदेश मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस

Surgical Strike : आतंकियों को दिया गया हमले का हुक्म, भारत में हाई-अलर्ट

अंकुर उपाध्याय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.