website counter widget

सरकार के खिलाफ असदुद्दीन ओवैसी ने फिर उगला जहर

0

व्हाट्सऐप जासूसी मामले (whatsapp pegasus snooping case ) के कारण भारत में राजनीतिक (politics of India ) तूफान उठ गया है। सरकार पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। बुधवार को ही इस मसले पर संसदीय कमेटी चर्चा कर रही थी और इस पर काफी विवाद भी हुआ। लोगों की निजता के साथ हो रहे खिलवाड़ पर अब ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen chief Asaduddin Owaisi) ने भी मोदी सरकार (Owaisi Attack Modi Government) पर तीखा प्रहार किया और कई सवाल दागे।

शिवसेना को फिर मिला धोखा ? राऊत का छ्लका दर्द!

मोदी सरकार ओवैसी का वार

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने व्हाट्सऐप जासूसी मामले पर कहा कि  संसद में मेरे सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (Union Minister Ravi Shankar Prasad statement ) ने कहा कि व्हाट्सऐप जासूसी मामले (WhatsApp snooping case  ) को लेकर सामने आई रिपोर्ट भ्रामक है और बदनाम करने की साजिश है। हालांकि रविशंकर प्रसाद ने इस बात से इनकार नहीं किया कि सरकारी एजेंसी ने पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया है या नहीं? किस सरकारी एजेंसी ने पेगासस के स्पाईवेयर सॉफ्टवेयर को खरीदा और भारत में नागरिकों को निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल किया? क्या गृह मंत्रालय के सचिव और मॉनिटरिंग कमेटी ने टेलीग्राफ एक्ट और आईटी एक्ट के तहत सर्विलांस की मंजूरी दी थी?

ट्रेन छूटी तो मिलेगा पूरा रिफंड, बस कर लें यह काम

खतरे में लोगों का डाटा

ओवैसी ने आगे कहा कि कानून के मुताबिक व्हाट्सऐप ने पेगासस द्वारा जासूसी करने को लेकर सीईआरटी-इन को अलर्ट किया था। पहली बार व्हाट्सऐप ने मई और फिर सितंबर में अलर्ट किया था (Owaisi Attack Modi Government)। इसके बाद सीईआरटी-इन ने क्या कदम उठाया और क्या दूसरी जिम्मेदार एजेंसियों ने इसकी जांच की और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की? पेगासस सॉफ्टवेयर को तैयार करने वाली एनएसओ की होल्डिंग कंपनी नोवलपिना कैपिटल ने साफ कहा है कि उसने इस सॉफ्टवेयर को सिर्फ सरकारी एजेंसियों को ही दिया है। अब सवाल यह है कि आखिर भारत में कौन सी एजेंसियों ने इसको लिया? पेगासस ने जासूसी करके जो डेटा जमा किया, उनको विदेशी सर्वर में स्टोर किया गया। सरकार जो बात कर रही है कि डाटा सुरक्षित है वह सब गलत है।

इंदौर ज़ू के स्नेक पार्क में आए दुनिया के सबसे खतरनाक सांप

        – Ranjita Pathare

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.