West Bengal violence : बंगाल में TMC-BJP के बीच बमबारी

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के दौरान शुरू हुआ बंगाल (West Bengal) का बवाल समाप्त होने के नाम ही नहीं ले रहा है। अभी भी वहां भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) और टीएमसी (All India Trinamool Congress) के कार्यकर्ताओं में झड़प जारी है। चुनाव से लेकर अभी तक कई लोगों की मौत होने के बाद भी यह हिंसक झड़प समाप्त नहीं हो रही है। अब फिर से बंगाल (Bengal) में बवाल हुआ। राज्य के भाटपारा (Bhatpara) में उपद्रवियों के दो गुटों के बीच हिंसक भिड़ंत हो गई। इसके बाद दोनों तरफ से बम और गोलियों की बरसात शुरू हो गई (West Bengal Violence)।

500 मीटर नीचे नदी में गिरी बस, कई की मौत

 जानकारी के अनुसार, भाटपारा (Bhatpara)  में भाजपा (BJP ) और टीएमसी (TMC ) के कार्यकर्ताओं ने एक दुसरे पर कच्चे बम फेंके और गोलियां चलाईं। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए लाठी फटकारी। हालांकि अभी तक इस झड़प में किसी राजनीतिक पार्टी का हाथ होने की खबर सामने नहीं आई है (West Bengal Violence)।

स्‍पेशल एनआईए कोर्ट ने ठुकराई प्रज्ञा ठाकुर की याचिका

कुछ समय पहले भी पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की युवा शाखा के कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी। भाजपा (Bharatiya Janata Party) ने राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (All India Trinamool Congress) को हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया था।

भाजपा कार्यकर्ता की ह्त्या के बाद भाजपा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमे लिखा था, “भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के कार्यकर्ता 28 वर्षीय आनंद पाल की मंगलवार को कूच बिहार जिले के नताबारी इलाके में तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने बेरहमी से हत्या कर दी।”  इसके पहले 16 जून को पश्चिम बंगाल के हुगली जिले में टीएमसी कार्यकर्ता की हत्या हो गई थी। खानकुल थाने के अनुसार हरीशचौक में तृणमूल पार्टी कार्यालय के पास 55 वर्षीय मनोरंजन पात्रा की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।
भाजपा और टीमसी के झगड़े के बीच टीएमसी के कई कार्यकर्ता और विधायक भाजपा में शामिल भी हो रहे हैं।

गर्भवती महिला को ज़बरदस्ती पिलाया तेज़ाब, हुई मौत…

Share.