राहुल गांधी ने भाजपा के सामने फैलाए मदद के हाथ!

0

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) ने भाजपा के सामने मदद के हाथ फैलाए है। भाजपा के हर फैसले का विरोध करने वाले राहुल गांधी को आज भाजपा की मदद की जरूरत पड़ गई है। राहुल गांधी ने तीन केंद्रीय मंत्रियों को पत्र लिखकर केरल में बाढ़ से उबरने में मदद करने के लिए कहा है।

प्राइवेट जेट क्रैश होने से बड़ा हादसा

बाढ़ से भारी नुकसान

केरल में बाढ़ के कारण भारी नुकसान हो गया है। वहाँ 125 लोगों की मौत और कई लोग बेघर हो गए हैं। वहीं 16,000 घर क्षतिग्रस्त भी हो गए। लोगों की ऐसी हालत  देखने के बाद राहुल गांधी ने गुहार लगाई है। उन्होने केरल में मनरेगा के 100 दिनों की रोजगार गारंटी देने वाली योजना में बढ़ोतरी कर 200 दिन करने को कहा है। बाढ़ से केरल का वायनाड जिला बुरी तरह प्रभावित है। इसलिए राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र में दौरे के लिए जा रहे हैं।

भारत पर पुलवामा जैसा आतंकी हमला करेगा पाकिस्तान!

राहुल ने अपने पत्र में लिखा, “केरल ने पिछले कुछ दशकों में सबसे खराब बाढ़ को देखा है । भारी बारिश, बाढ़, भूस्खलन ने लोगों को बेघर कर दिया है, और घरों में कीचड़ और गाद के जमाव के कारण हजारों घरों को निर्जन बना दिया है। मैं अनुरोध करना चाहता हूं कि केरल राज्य के लिए मनरेगा के तहत कामों के दायरे का विस्तार किया जाए, ताकि राज्य में आवश्यक बाढ़ पुनर्वास कार्य किए जा सकें, और एक परिवार के लिए रोजगार की न्यूनतम गारंटी वाले दिनों में 200 दिन की वृद्धि की जाए।”

मोदी सरकार के इस फैसले के विरोध में सुप्रीम कोर्ट पहुंचे शाह

इसीके साथ राहुल गांधी ने केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Union Transport Minister Nitin Gadkari) को भी पत्र लिखा और कहा कि पर्यटकों में लोकप्रिय वायनाड में बाढ़ से सड़के क्षतिग्रस्त हो गई है। इसलिए सड़कों की मरम्मत, रखरखाव और पुनर्निर्माण के लिए धन का आवंटन किया जाए।, सड़क की खस्ताहालत और अन्य दुर्घटनाओं ने राष्ट्रीय राजमार्गों को व्यापक नुकसान पहुंचाया है। क्षतिग्रस्त सड़कों के पुनर्निमाण के लिए शीघ्र प्रबंध सुनिश्चित करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए।

 

 

Share.