Vijender Singh ने ट्वीट कर बताई सिंधिया की मजबूरी

0

मध्यप्रदेश की राजनीति में पिछले काफी दिनों से हंगामा मचा हुआ था। इस हंगामे के बीच कांग्रेस में अगली पीढ़ी के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Vijender Singh Tweet On Scindia) के इस्तीफ़ा देने से कांग्रेस पार्टी में हड़कंप मच गया। सिंधिया के पार्टी (Scindia dumps Congress) छोड़ते ही अन्य नेताओं के बगावत के सुर भी काफी बुलंद होने लगे हैं। सिंधिया के पार्टी (Scindia joins BJP)  से त्यागपत्र देने के बाद कई नेताओं ने पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़े कर दिए हैं। इन नेताओं की फेहरिस्त में एक और बेहद जाना-पहचाना नाम भी शामिल हो गया है और वह नाम है मशहूर बॉक्सर और कांग्रेस (Congress)  नेता विजेंदर सिंह (Vijender Singh) का। जी हां पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाते हुए विजेंदर सिंह (Vijendra Singh twitter) ने अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया है। अपने ट्वीट (Vijender Singh tweet) में विजेंदर ने लिखा, “कुछ तो मजबूरियाँ रही होगी उसकी वर्ना ऐसे ही घर छोड़ कर नही जाता।”

Congress Bharat Bachao Rally Live : देश का बंटवारा हो जाएगा

विजेंदर (Vijender Singh Tweet On Scindia) के इस ट्वीट से यह तो साफ़ तौर पर पता चलता है कि वे कांग्रेस हाईकमान पर सवाल खड़े कर रहे हैं। दरअसल पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव (Assembly Elections) के दौरान विजेंदर को कांग्रेस पार्टी ने दक्षिणी दिल्ली से टिकट दिया था। दक्षिणी दिल्ली से चुनावी मैदान में उतरे विजेंदर सिंह को हार का मुंह देखना पड़ा था। हालांकि यह कोई पहला मौका नहीं है जब विजेंदर ने अपनी ही पार्टी पर सवाल खड़े किए हों। इससे एक दिन पहले जब ज्योतिरादित्य सिंधिया (MP Politics) ने पार्टी से इस्तीफ़ा दिया था, तब भी विजेंदर सिंह (Vijender Singh) ने एक ट्वीट किया था। अपने इस ट्वीट में भी विजेंदर ने पार्टी पर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने सिंधिया के त्यागपत्र देने के बाद ट्वीट कर लिखा था, “ज्योतिरादित्य सिंधिया (Scindia resigns) जसे नेता पार्टी छोड़ कर जा रहे है किस की गलती है?”

Congress Working Committee Meeting : कांग्रेस को मिला नया अध्यक्ष!

सिर्फ विजेंदर सिंह (Vijender Singh Tweet On Scindia) अकेले नेता नहीं हैं जिन्होंने कांग्रेस (Congress) आलाकमान के खिलाफ सवाल खड़े किए हैं। इससे पहले हिमाचल कांग्रेस के युवा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह ने भी पार्टी हाईकमान पर निशाना साधते हुए कहा था कि ज्यादा देर होने से पहले पार्टी को असली आत्ममंथन करना चाहिए। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को इस पर विचार जरूर करना चाहिए कि कहां गलती हुई है। इससे पहले कांग्रेस नेता कुलदीप विश्नोई ने लिखा, “ज्योतिरादित्य सिंधिया (Scindia left congress) का जाना कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका है। वह पार्टी में एक केंद्रीय स्तंभ थे और शीर्ष नेतृत्व को उन्हें पार्टी में बनाए रखें के लिए मनाने का और अधिक प्रयास करना चाहिए था। उनकी तरह, देश भर में कई अन्य समर्पित कांग्रेस नेता हैं जो खुद को पार्टी से अलग और कटा हुआ महसूस करते हैं।”

इतना ही नहीं इसके अलावा कुलदीप (Kuldeep Bishnoi tweet)  ने लिखा “भारत की सबसे पुरानी पार्टी को युवा नेताओं को सशक्त बनाने की आवश्यकता है जो जनता के साथ कड़ी मेहनत और संबंध स्थापित करने की क्षमता रखते हैं।”

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Vijender Singh Tweet On Scindia) ने कांग्रेस से इस्तीफ़ा देकर भारतीय जनता पार्टी (Scindia Joined BJP) का दामन थाम लिया है। आज यानी 11 मार्च की दोपहर लगभग 2 बजकर 30 मिनट पर उन्हें भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भाजपा की सदस्य्ता दिलाई। इस दौरान भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ विनय सहस्त्रबुद्धे, अनिल जैन, मध्य प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, बैजयंत पांडा आदि मौजूद रहे। भाजपा की सदस्य्ता ग्रहण करने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, “मैं नड्डा साहब, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) का धन्यवाद करना चाहूंगा।” इसके बाद ज्योतिरादित्य ने भाजपा की तारीफ की और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।

Rahul Gandhi Resigned As Congress President : राहुल गांधी नहीं रहे कांग्रेस अध्यक्ष, नाम से हटाया

Prabhat Jain

Share.