अस्पताल का फरमान, मेकअप लगाकर न आएं महिलाएं

0

क्या आपने कभी ये सुना है कि कोई अस्पताल महिलाओं को कहे कि आप मेकअप करके नहीं आ सकते ? ऐसा अजब-गजब फरमान आगरा (Ban On Makeup In Agra Government Hospital) के एक अस्पताल में सुनाया गया है। आगरा के अस्पताल का नाम सुनकर कई लोगों के मन में तो वहां के पागलखाने का फरमान लग रहा होगा, लेकिन ऐसा नहीं है। आगरा के फतेहाबाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Samudayik Swasthya Kendra Fatehabad ) प्रभारी ने यह फरमान सुनाया है।

Earthquake in Assam : बाढ़ की मार झेल रहे असम में भूकंप

 जानकारी के अनुसार, आगरा के फतेहाबाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ने यह फरमान सभी महिलाओं (Ban On Makeup In Agra Government Hospital) के लिए नहीं बल्कि वहां काम करने वाली महिलाओं के लिए सुनाया गया है। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि महिला स्टाफ साड़ी या सलवार सूट ही पहनकर आएंगी, वहीं पुरुष स्टाफ के लिए जींस और टीशर्ट पर पाबंदी लगा दी है। इस बारे में सीएचसी प्रभारी ने बुधवार को अस्पताल स्टाफ के साथ बैठक की, जिसके बाद पुरुष और महिला स्टाफ के लिए ड्रेस कोड लागू कर दिया गया। अब इस अस्पताल में पुरुष फार्मल पैंट-शर्ट और काले जूते पहनकर आएंगे। जींस-टीशर्ट पहनकर अस्पताल में नहीं आ सकेंगे। सीएससी प्रभारी ने यह भी स्पष्ट किया कि ड्रेस कोड का पालन न करने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Birla Mandir Accident VIDEO : जयपुर के एक ही चौराहे पर क्यों आती है बार-बार मौत ?

सीएचसी प्रभारी डॉ मनीष गुप्ता का कहना है कि पुरुषों को जींस टीशर्ट और महिला स्टाफ को हल्के मेकअप (Ban On Makeup In Agra Government Hospital) में आने को कहा है। वहीँ सीएमओ डॉ मुकेश वत्स ने मामले से पल्ला झाड़ लिया। उन्होंने कहा कि जींस टीशर्ट पहनकर आने और हल्का मेकअप करने जैसा कोई लिखित में आदेश नहीं आया है। उनका कहना है कि इस मामले में जांच के बाद ही कुछ कहेंगे। मंडलीय अपर निदेशक चिकित्सा एवं परिवार कल्याण डॉ. एके मित्तल का कहना है कि सीएचसी प्रभारी को इसका अधिकार नहीं है कि वह स्टाफ को मेकअप न करने का आदेश जारी करे, न ही शासन से इस तरह का कोई निर्देश है।

New Zealand Christchurch Gas Explosion : न्यूज़ीलैंड के क्राइस्ट चर्च में बड़ा धमाका

Share.