website counter widget

Video : विपक्ष को उन्नाव पुलिस का करारा जवाब, शेयर किया घटना का सही वीडियो

0

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में मुआवजे की मांग कर रहे किसानों पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी थी। पुलिस की इस बर्बरता पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने जमकर निशाना साधा था और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को आड़े हाथों लेते हुए उनका गुंडाराज बताया था। विपक्ष लगातार इस मामले में यूपी सरकार को घेर रही है। इस मामले में प्रियंका गांधी ने एक वीडियो अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया था जिसमें जमीन पर बेसुध पड़े एक शख्स पर पुलिस डंडे बरसा रही है।

नए फॉर्मूले के साथ शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस में बनी बात

इसके अलावा प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था कि, “उप्र के CM क्या केवल किसानों पर लच्छेदार भाषण ही दे पाते हैं? क्योंकि भाजपा सरकार में किसानों का अपमान ही होता रहता है। उन्नाव में जमीन का मुआवज़ा मांग रहे किसानों की पुलिस ने बेरहमी से पिटाई कर दी। महिला किसानों को भी पीटा गया। किसानों की जमीन ली है तो मुआवजा तो देना ही होगा।” प्रियंका द्वारा लगातार निशाना साधने के बाद उन्नाव पुलिस द्वारा आज उस वीडियो का दूसरा पक्ष शेयर किया गया है। प्रियंका गांधी के वीडियो का जवाब देते हुए उन्नाव पुलिस ने भी एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया है।

SBI लाया खुशखबरी, SBI के ATM कार्ड से जनरल स्टोर पर मिलेगा कैश

उन्नाव पुलिस द्वारा इस वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट लिखा गया कि, “कतिपय समाचार चैनलों एवं सोशल मीडिया पर जमीन पर पड़े अधमरे युवक की पिटाई की घटना का सही वीडियो।” उन्नाव पुलिस द्वारा शेयर किए इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि जमीन पर बेसुध पड़ा युवक बेहोश होने का नाटक कर रहा है। जैसे ही पुलिसकर्मी उससे दूर जाते हैं तो युवक तत्काल ही खड़ा होकर वहां से रफूचक्कर हो जाता है। यह वीडियो शेयर करते हुए उन्नाव पुलिस ने प्रियंका गांधी द्वारा शेयर गए वीडियो का जवाब दिया है।

आयोध्या फैंसले के बाद राम बारात में पीएम मोदी और सीएम योगी बने बाराती!

गौरतलब है कि इस मामले में सिर्फ प्रियंका गांधी ही नहीं बल्कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी योगी सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, “उत्तर प्रदेश में किसानों को ट्रांस गंगा सिटी प्रोजेक्ट की जमीन के उचित मुआवजे की जगह भाजपा की लाठी मिल रही है। गन्ने का उचित मूल्य नहीं मिल रहा, खड़ी फसल आवारा पशु खा रहे हैं, देश में अन्नदाताओं की आत्महत्याएं बढ़ती जा रही हैं, क्या भाजपा राज में विकास की यही परिभाषा है।”

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.