शिवसैनिक ही बनेगा महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री!

0

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव (Assembly elections in Maharashtra) होने वाले हैं और इसे लेकर सभी पार्टियों ने तैयारी शुरू कर दी है। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) और शिवसेना (Shiv Sena) के बीच में पहले सीटों के बँटवारे को लेकर बहस चल रही थी, अब जब दोनों पार्टियों के बीच में सीटों का बंटवारा हो गया है तो इसके बाद मुख्यमंत्री (Chief Minister) पद के लिए घमासान शुरू हो गया है। शिवसेना (shiv sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का कहना है कि इस बार वे शिवसैनिक को मुख्यमंत्री बनाकर ही रहेंगे।

अब कैल्शियम का इंजेक्शन भी कांग्रेस के लिए काफी नहीं

जानकारी के अनुसार, उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने एक इंटरव्यू में बीजेपी (bjp) के साथ गठबंधन, अपने बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) के चुनाव लड़ने से मुद्दों पर खुलकर बात की। इस दौरान उन्होने मुख्यमंत्री पद के लिए बड़ा बयान दिया। उन्होने कहा कि आदित्य ठाकरे चुनाव लड़ने रहे हैं इसका यह मतलब नहीं कि मैं चुप बैठ जाऊंगा (Shiv Sena Chief Uddhav Thackeray)। मैं राजनीति से संन्यास नहीं लूंगा। शिवसेना प्रमुख (बाला साहेब ठाकरे) को दिया अपना वचन पूरा करूंगा। मैंने उन्हें वचन दिया था कि एक शिवसैनिक को मुख्यमंत्री बनाकर रहूंगा। जब तक यह नहीं हो जाता है मैं चुप नहीं बैठूंगा।

बीजेपी ने सहयोगी दलों को दिखाई उनकी जगह

शिवसेना (Shiv Sena) अध्यक्ष ने आगे कहा कि पिछले 5 वर्षों से हम सत्ता में हैं। सत्ता में रहते हुए भी हम हमेशा जनता की आवाज बने। अन्याय के खिलाफ आवाज उठाते रहे। न्याय के लिए लड़ते रहे। गठबंधन में कुछ हासिल करने के लिए कुछ गंवाना भी पड़ता है। लेकिन आखिर में परिणाम देखा जाता है, हमें सत्ता हमें चाहिए ही। हां, मैंने सत्ता के लिए ही गठबंधन किया इसमें छुपाने जैसा कुछ नहीं है (Shiv Sena Chief Uddhav Thackeray)। ये सत्ता रहेगी तो उन 164 निर्वाचन क्षेत्रों में शिवसेना के कार्यकर्ताओं को भी मैं कुछ-न-कुछ दे सकता हूं इसलिए मैंने गठबंधन किया की।

आरे कालोनी में पेड़ काटने पर प्रकाश जावड़ेकर का बयान

          – Ranjita Pathare 

Share.