website counter widget

कांग्रेस पार्टी चली RSS की राह

0

भाजपा जो की कांग्रेस की विपक्षी पार्टी है ,और आजकल कांग्रेस की नाक में दम कर रखा है. ऐसा माना जाता है की भाजपा राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से प्रेरित पार्टी है (Today Sonia Gandhi Meeting)। कांग्रेस को अक्सर राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के खिलाफ देखा गया है लेकिन अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को RSS की राह भा रही है। और अपनी पार्टी में भी वह राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के ‘प्रेरकों’ की तरह नियुक्तियां करने जा रही है।

भारत और चीन के सैनिकों में हुई झड़प: लद्दाख बॉर्डर

इन नियुक्तियां पर चर्चा आज होने वाली बैठक में हो सकती है जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर मेगा इवेंट की तैयारी के लिए होगी जानकारी के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में आज गुरुवार को पार्टी महासचिवों तथा प्रदेश अध्यक्षों सहित सभी पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगी. कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में पार्टी की प्रदेश इकाईयों के अध्यक्ष, पार्टी के महासचिव तथा प्रदेश प्रभारियों के साथ ही कांग्रेस विधायक दल के नेता भी हिस्सा लेंगे (Today Sonia Gandhi Meeting).

बारिश के लिए कराया मेंढक-मेंढकी का विवाह अब देना पड़ रहा तलाक

अधिक जानकरी के अनुसार बैठक का मुख्य लक्ष्य गांधी जयंती की तैयारियों, सदस्यता अभियान और पार्टी कार्यकर्ता प्रशिक्षण के इर्द-गिर्द घूमेगा. एक सूत्र ने कहा कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह , प्रियंका गांधी वाड्रा और अन्य महासचिव समेत कांग्रेस की राज्य इकाइयों के प्रमुख महत्वपूर्ण बैठक में मौजूद रहेंगे, जो आर्थिक मंदी पर भी चर्चा करेंगे.


पार्टी अपने जनसंपर्क कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए देश भर में जिला स्तर पर ‘प्रेरकों’ की नियुक्ति करेगी. कांग्रेस की राज्य इकाइयों को पार्टी के नेताओं की पहचान करने के लिए कहा गया है, जिन्हें कई दिनों तक प्रशिक्षण दिया जाएगा. जानकारी के मुताबिक ये प्रेरक पार्टी के एजेंडे पर काम करेंगे. यह बिलकुल वैसे ही होगा जैसे आरएसएस के प्रचारक काम करते हैं.
कांग्रेस कैडर के भीतर पहली बार ऐसी कोई नियुक्ति होगी. पार्टी अब सरकार के एजेंडे का मुकाबला करने के लिए पार्टी कैडर के प्रशिक्षण कार्यक्रम पर जोर देना चाहती है और चुनावी असफलताओं के बाद पार्टी की नीति को जमीनी स्तर पर ले जाना चाहती है।
कांग्रेस पार्टी का अस्तित्व दिन प्रति दिन कम होता जा रहा है इसे बचाने के लिए अब कांग्रेस अध्यक्ष हर संभव प्रयास कर रही है।

Breaking : चुनाव के पहले महाराष्ट्र सरकार का बड़ा फैसला

-मृदुल त्रिपाठी

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.