देश में फिर होने लगी पैसों की किल्लत

0

देश में एक बार फिर नोटबंदी जैसे हालात हो गए है। कई राज्यों में कैश की भारी किल्लत देखने को मिल रही है। बिहार, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और गुजरात में समस्या देखने को मिल रही है। सबसे ज्यादा नकदी की समस्या बिहार में सामने आ रही है। लोग कैश की तलाश में एटीएम और बैंक के चक्कर काट रहे हैं। एटीएम के बाहर ‘नो कैश’ का बोर्ड लगा दिया गया है।

साजिश के तहत गायब

नकदी की समस्या को लेकर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराजसिंह चौहान ने बड़ा बयान दिया है| उन्होंने कहा कि 2000 के नोट को साजिश के तहत चलन से गायब किया जा रहा है।

योगी ने बुलाई बैठक

यूपी में नकदी सकंट को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने बैठक बुलाई। कहा जा रहा है कि सीएम योगी इस परेशानी के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली को पत्र लिख सकते हैं।

यह है किल्लत की वजह

बैंक में कैश डिपॉजिट काफी कम हो रहा है। जनता बैंक में पैसे जमा कम कर रही है, इस वजह से बैंक कैश की किल्लत से जूझ रहे हैं और एटीएम में जरूरत के मुताबिक कैश नहीं डाला जा रहा है। बैंक से जितना जा रहा है, उतना वापस नहीं आ रहा है।

साजिश के तहत गायब

नकदी की समस्या को लेकर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराजसिंह चौहान ने बड़ा बयान दिया है| उन्होंने कहा कि 2000 के नोट को साजिश के तहत चलन से गायब किया जा रहा है। प्रदेश सरकार इस पर सख्ती से कार्रवाई करेगी। चौहान ने शाजापुर में आयोजित ‘कृषक समृद्धि योजना’ को संबोधित करते हुए कहा कि नोटबंदी से पहले 15 लाख करोड़ की नकदी चलन में थी। बाद में यह बढ़कर 16 लाख 50 हजार करोड़ की हो गई, लेकिन बाजार से 2000 का नोट गायब हो रहे हैं।

Share.