हिन्दुस्तानी नौजवान बन रहे ISI के हैवान

0

देश – दुनिया में आये दिन कई आतंकी घटनाएं होती है, जिनमें बेगुनाहों का खून बहाया जाता है। मामलों की जब जांच की जाती है, तो पता चलता है कि हमले में कोई नौजवान शामिल था, जिसने आतंकी संगठन के निर्देश पर घटना को अंजाम दिया। पढ़े-लिखे युवाओं को आतंकी संगठन (Terrorist Organization) बहला कर संगठन में शामिल कर लेते हैं। अब आतंकी की इसी फैक्ट्री के संबंध में एक चौंकाने वाला खुलासा (Terrorist Organization ISI Trapped Indian Youth ) हुआ है। आतंकियों के जाल से छूटकर आये मुज्जफरपुर के मोनिश ने कई चौंकाने वाले खुलासे किये हैं।

जेल के बाहर राजीव गांधी की हत्या की दोषी नलिनी

आतंक की फैक्ट्री में शामिल हो रहे हिन्दुस्तानी युवा

मुज्जफरपुर के मोनिश ने बताया कि भारत में आईएसआई ( ISI ) के कई एजेंट काम कर रहे हैं, जो युवाओं को नौकरी का झांसा देकर विदेश ले जाते हैं। जहां से  उन्हें पाकिस्तान या अफगानिस्तान भेजा जाता है। इसके एवज में उन्हें भारी-भरकम रकम भी दी जाती है। यदि कोई युवा आतंकी संगठन (Terrorist organization ISI trapped Indian youth) में शामिल होने से इंकार कर देता है, तो उसे प्रताड़ित किया जाता है और जबरन शामिल किया जाता है।

महिला के पेट से निकले 1.5 किलो के सोने-चांदी गहने

ऐसे जाल में फंसाता है ISI

मोनिश ने बताया कि उसे 50 हजार देकर दुबई ले जाया गया था, जिसके बाद वहां ISI का एजेंट दो लाख रुपए देकर उसे पाकिस्तान ले गया। पाकिस्तान जाकर पता चला कि आतंकी संगठन में उसे शामिल किया जा रहा है, जिसका विरोध करने के बाद उसे प्रताड़ित किया गया। काफी दिन बाद वह वहां से भागने ने कामियाब रहा। मोनिश 23 जुलाई को भारत आया। उसने बताया कि भारत में ऐसे कई एजेंट काम कर रहे हैं जो युवाओं को बहला फुसलाकर आतंकी संगठन में शामिल कर लेते हैं। इस खुलासे के सामने आने के बाद पुलिस विभाग चौकन्ना हो गया है।

Triple Talaq Bill : ट्रंप मामले से ध्यान हटाने के लिए ट्रिपल तलाक बिल लाई भाजपा!

Share.