संविधान बचाओ आंदोलन में मोदी पर निशाना

0

कांग्रेस ने आज पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में संविधान बचाओ आंदोलन की शुरुआत की, जिसका उद्देश्य संविधान और दलितों की कथित हमलों के मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर उठाना है| गौरतलब है कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर कांग्रेस दलितों को पक्ष में लेने की हरसंभव कोशिश कर रही है|

राहुल गांधी ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी के दिल में दलितों के लिए जगह नहीं है| दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किताब ‘कर्मयोगी-नरेंद्र मोदी’ के शब्दों से की| राहुल ने निशाना साधते हुए कहा कि जो टॉयलेट को साफ करता है, जो गंदगी उठाता है, उसका  क्या अध्यात्म नहीं होता, जो वाल्मीकि समाज करता है|

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक व्यक्ति से मोदीजी ने पूछा कि देश के दलित उनसे गुस्सा क्यों हैं| मैं बताना चाहता हूं कि पीएम की विचारधारा दलितों के समर्थन वाली नहीं है| दलितों के खिलाफ अत्याचार बढ़ रहा है, लेकिन मोदीजी लगातार चुप रहे हैं| यूपी और ऊना जैसे मामले सामने आ रहे हैं| कांग्रेस ने गुजरात में आवाज़ उठाई, तब तीन दिन बाद स्टेज पर मोदी जी आते हैं और आंसू निकल आते हैं| राहुल गांधी ने कहा कि देश की संवैधानिक संस्थाओं को दबाया जा रहा है|

राहुल ने कहा कि मोदीजी को सिर्फ मोदी से मतलब है| चाहे देश में कुछ भी हो जाए, लेकिन वे नहीं बोलते हैं| पिछले चुनाव में 15 लाख रुपए देने का वादा किया और 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात की| पहले नारा दिया बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और अब नया नारा दे रहे हैं बेटी बचाओ, लेकिन बेटी को बीजेपी से ही बचाओ|

Share.