आखिर कौन हैं Coronavirus की भविष्यवाणी करने वाली Sylvia Brownie

0

दुनियाभर में इस वक़्त कोरोना वायरस (Coronavirus India) का खौफ है। चीन से फैले इस वायरस (COVID19 India) ने अब तक दुनिया के लगभग 72 देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। इस वायरस (End Of Days Predicted Coronavirus) की वजह से अभी दुनियाभर में 3100 से भी ज्याद मौतें हो चुकी हैं। इस वायरस (Coroan Alert) के इतनी तेजी से दुनियाभर में फैलने के बावजूद इसका इलाज अभी तक नहीं खोजा जा सका है जबकि दुनिया के तमाम वैज्ञानिक इसके इलाज को तलाश रहे हैं। अब इस वायरस का खौफ भारत में भी है। लेकिन अब इस वायरस (Coronavirus Is Spreading) को लेकर एक बेहद ही चौकाने वाली खबर सामने आई है। दरअसल कुछ दिनों पहले एक अमरीकी लेखक की किताब के हवाले इस बात का दावा किया गया था कि Coronavirus को लेकर 40 साल पहले ही चेतावनी जारी की गई थी। हालांकि यह सुनने में थोड़ा अजीब लगता है लेकिन इसी तरह की एक और किताब सामने आई है जो किसी अन्य अमरीकी लेखक द्वारा लिखी गई है। इस किताब में भी कोरोना वायरस (Coronavirus from China)  से मिलते-जुलते लक्षणों की बात लिखी गई है। अब किताब में लिखी इस बात को सोशल मीडिया पर जमकर शेयर किया जा रहा है जिस पर लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। यह किताब (End Of Days Predicted Coronavirus)  जुलाई 2008 में लिखी थी अमरीकी लेखिका ‘सिल्विया ब्राउनी (Sylvia Browne)’ ने। इस किताब का नाम है ‘एंड ऑफ डेज (End of days)।’

देश में Coronavirus की मार, एक्शन में दिल्ली सरकार

गौरतलब है कि ‘सिल्विया ब्राउनी’ (Sylvia Browne) की लिखी किताब ‘एंड ऑफ डेज (End Of Days Predicted Coronavirus) ‘ में पेज नंबर 312 पर इस वायरस से मिलते जुलते लक्षणों का जिक्र किया गया है। इसमें लिखा है, “2020 में निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी पूरी दुनिया में फैल जाएगी। यह बीमारी फेफड़ों और श्वासनलियों पर हमला करेगा और इसका कोई इलाज नहीं होगा।” इस किताब में दी गई इस चेतावनी से लोग अटकलें लगा रहे हैं कि अमरीकी लेखिका सिल्विया को कई साल पहले ही दुनिया में फैलने वाली इस बेहद घातक बीमारी का आभास हो गया था और उन्होंने अपनी किताब के माध्यम से दुनिया को इस बात की चेतावनी दी थी। साथ ही उनकी किताब में यह भी लिखा है कि यह घातक बीमारी (End Of Days Predicted Coronavirus) जितनी तेजी से दुनिया में फैलेगी उससे दुगनी रफ़्तार से यह बीमारी ख़त्म भी हो जाएगी। किताब में जिक्र किया गया है कि यह बीमारी खुद व खुद अचानक गायब हो जाएगी। आगे सिल्विया (Sylvia Browne) लिखती है कि बीमारी के पूरी तरह से ख़त्म हो जाने के 10 साल बाद यह फिर से लौटे और फिर अपने आप ही ख़त्म हो जाएगी।

चाइना की जेलों में भी Coronavirus का कहर

कौन हैं सिल्विया ब्राउनी

जाहिर सी बात है कि सभी के जहन में यह सवाल जरूर उमड़ रहा होगा कि आखिर इस तरह की घातक बीमारी (End Of Days Predicted Coronavirus)  की भविष्यवाणी करने वाली अमरीकी लेखिला सिल्विया ब्राउनी (Sylvia Browne) आखिर हैं कौन? तो चलिए बता देते हैं कि सिल्विया (Sylvia Browne) खुद को एक मनोवैज्ञानिक व आध्यात्मिक गुरु कहती थीं। इतना ही नहीं सिल्विया (Sylvia Browne) का दावा था कि उनके पास अलौकिक शक्तियां हैं यानी कि सुपर पावर हैं। सिल्विया (Sylvia Browne) के रेडियो और टीवी पर कई शो भी प्रसारित किए जाते थे। साल 2013 में 20 नवंबर को सिल्विया (Sylvia Browne) का निधन हो गया। अब चूंकि पूरी दुनिया में इस घातक coronavirus का खौफ फैला हुआ है जिसका फायदा सिल्विया (Sylvia Browne) की किताब की बिक्री को हुआ। इस किताब की बिक्री में इतना इजाफा हुआ कि इस किताब का स्टॉक ही समाप्त हो गया। सिल्विया ब्राउनी (Sylvia Browne) की ऑफिसियल वेबसाइट जिसे उनका बेटा संचालित करता है, पर यह किताब आउट ऑफ़ स्टॉक हो चुकी है। लेकिन क्या वाकई अमरीकी लेखिका सिल्विया (Sylvia Browne) की यह भविष्यवाणी सही है? क्या उनकी किताब में बताए गए लक्षण कोरोना वायरस के ही हैं? अगर हां तो इसका मतलब है कि इस वायरस का इलाज नहीं मिलेगा और यह खुद ब खुद ही ख़त्म हो जाएगा लेकिन चिंता फिर भी बनी रहेगी क्योंकि उनकी किताब के अनुसार यह घातक वायरस (End Of Days Predicted Coronavirus) 10 साल बाद फिर से लौटेगा और पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लेगा।

Coronavirus के कारण फंसे जापानी जहाज में हिन्दुस्तानी ने गाया गाना, वीडियो हुआ वायरल

Prabhat Jain

Share.