website counter widget

मध्यप्रदेश की राज्यपाल बनेंगी सुमित्रा महाजन!

0

इंदौर (Indore) से आठ बार की सांसद और लोकसभा की स्पीकर (lok sabha speaker) रही सुमित्रा महाजन (Sumitra Mahajan Will Be Governor of Madhya Pradesh)  को इस बार भाजपा बड़ा पद देने का सोच रही है। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के 75 पार वाले फॉर्मूले के कारण ताई इस बार चुनाव तो नहीं लड़ पाई, लेकिन उन्हें अब बड़ी जिम्मेदारी मिलने वाली है। ताई को लोकसभा का टिकट नहीं देने पर खूब बवाल हुआ था। ताई की नाराजगी के बाद उन्हें मनाने के लिए पार्टी के कई नेता सामने आये थे और तब पार्टी की ओर से कहा गया था कि  उनके लिए पार्टी ने कुछ और सोच रखा है। अब यह खबर आ रही है कि सुमित्रा महाजन को मध्यप्रदेश की राज्यपाल बनाया जा सकता है।

Indian Cabinet Ministers List 2019 LIVE : केंद्रीय मंत्रियों की सूची

 जानकारी के अनुसार, 1989 से 2014 तक के लोकसभा चुनावों में लगातार सांसद चुनी जाने वालीं ताई (Sumitra Mahajan Will Be Governor of Madhya Pradesh) ने 2019 के चुनाव के लिए  बवाल के बाद खुद ही चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था। लोकसभा अध्यक्ष और वरिष्ठता को देखते हुए पार्टी अध्यक्ष सहित मध्यप्रदेश प्रभारी भी सीधे यह स्पष्ट नहीं कर पा रहे थे। इसके बाद उन्होंने कहा था कि मुझे लगता है पार्टी को मेरे टिकट पर निर्णय करने में संकोच हो रहा है, ऐसी स्थिति में मैं खुद ही चुनाव नहीं लड़ना चाहती। भाजपा की समर्पित कार्यकर्ता होने के नाते सदैव कार्य करती रहूंगी। पार्टी के प्रति ताई के कार्य और सच्चाई को देखते हुए ही अब उन्हें राज्यपाल बनाने का फैसला लिया जा सकता है।

Modi Cabinet 2.0 से बाहर हुए 37 मंत्रियों की लिस्ट

फिलहाल मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में राज्यपाल के रूप में आनंदीबेन पटेल (Sumitra Mahajan Will Be Governor of Madhya Pradesh) कार्यरत है। वे ही दोनों राज्यों का कार्यभार संभाल रही है, लेकिन जल्द ही एक राज्य की जिम्मेदारी सुमित्रा महाजन को मिल सकती है। ताई का जन्म स्थान  महाराष्ट्र इसीलिए सोशल मीडिया पर ये बाते भी वायरल हो रही है कि ताई को मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र या फिर छत्तीसगढ़ में से किसी एक राज्य का राज्यपाल बनाया जा सकता है। मध्यप्रदेश से जुड़ाव बने रहने और नजदीक होने से भी उन्हें छत्तीसगढ़ का राज्यपाल बनाए जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है। फिलहाल इन कयासों के बारे में पार्टी की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया है, लेकिन अब पार्टी जल्द ही नए राज्यपाल के नाम पर फैसला ले सकती है

दूसरी बार पीएम बनने से पहले वादा

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.