मप्र, बिहार, यूपी और राजस्थान जैसे राज्यों…

0

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने उत्तरप्रदेश, बिहार,  राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश को पिछड़ा राज्य बताया है। जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में प्रथम अब्दुल गफ्फार खान स्मारक व्याख्यान के दौरान कांत ने कहा कि देश में दक्षिण और पश्चिमी राज्य तेजी से आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन बिहार, यूपी, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान जैसे राज्यों के कारण भारत पिछड़ा बना हुआ है।

मानव सूचकांक में पिछड़े

अमिताभ ने कहा कि एक तरफ हम ‘इज ऑफ डूइंग बिजनेस’ की रैंकिंग में कई पायदान ऊपर चढ़े हैं तो मानव विकास सूचकांक में अभी भी काफी पिछड़े हैं। 188 देशों की सूची में हमारा स्थान 131वां है। अमिताभ ने आगे कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य ऐसे दो क्षेत्र हैं, जहां देश पिछड़ रहा है। हमारे स्कूलों की पढ़ाई पिछड़ रही है। कक्षा पांच का छात्र कक्षा दूसरी के घटाव नहीं कर सकता, वह हिन्दी भी ठीक से नहीं पढ़ पाता। शिशु मृत्युदर बढ़ी है। जब तक हम इन सभी पहलुओं पर ध्यान नहीं देंगे, तब तक नियमित तौर पर विकास आसान नहीं हैं।

आकांक्षा जिला कार्यक्रम

उन्होंने कहा कि मानव विकास सूचकांक में बेहतर करने के लिए हमें सामाजिक संकेतकों पर गौर करना होगा। हम आकांक्षा जिला कार्यक्रम के जरिये इन चीजों पर कार्य कर रहे हैं। आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने जनवरी में आकांक्षात्मक जिलों में परिवर्तन कार्यक्रम देश के पिछड़े जिलों की तेजी से तरक्की के लिए शुरू किया था। इस कार्यक्रम के तहत केंद्र और राज्य की योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए जिलों के बीच प्रतिस्पर्धा भी रखी जाती है ताकि उन्हें प्रोत्साहन मिले।

Share.