website counter widget

SBI New Rules : ट्रैफिक के नए नियमों के बाद अब एसबीआई के नए नियम

0

देश की जनता अभी नए ट्रैफिक नियमों से नहीं उभर पा रहा है आये दिन विरोध की कोई न कोई घटनाएं सामने आए आ रही है. इसी बीच देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 1 अक्टूबर 2019 से अपने सर्विस चार्ज में बदलाव करने जा रहा है (SBI New Rules)। इसमें बैंक में रुपया जमा करना, रुपया निकालना, चेक का इस्तेमाल, एटीएम ट्रांजेक्शन से जुड़े सर्विस चार्ज शामिल हैं। सर्विस चार्ज में बदलाव के संबंध में एसबीआई ने अपनी वेबसाइट पर एक सर्कुलर भी जारी कर दिया है।

कश्मीर के लिए फिर मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला


1 अक्टूबर के बाद आप 1 महीने में अपने खाते में केवल 3 बार ही रुपया मुफ्त में जमा कर पाएंगे। यदि इससे ज्यादा बार रुपया जमा करते हैं तो प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर 50 रुपए (जीएसटी अतिरिक्त) का चार्ज देना होगा। बैंक सर्विस चार्ज पर 12 फीसदी का जीएसटी वसूलता है (SBI New Rules)। इस प्रकार जब आप चौथी, पांचवीं या ज्यादा बार रुपया जमा करेंगे तो आपको हर बार 56 रुपए ज्यादा देने होंगे। आपको बता दें कि अभी किसी भी बैंक में खाते में रुपए जमा करने संबंधी कोई रोकटोक नहीं है। कोई भी व्यक्ति अपने खाते में महीने में कितनी ही बार कितना भी पैसा जमा कर सकता है।

इसके अलावा यदि चेक किसी कारण से बाउंस हो जाता है तो चेक जारी करने वाले पर 150 रुपये और जीएसटी का अतिरिक्त भुगतान करना होगा। जीएसटी मिलाकर यह चार्ज 168 रुपये होगा। नए नियमों के मुताबिक जहां एक तरफ बैंक के एटीएम से होने वाले ट्रांजेक्शन की संख्या में इजाफा कर दिया है। वहीं बैंक शाखा में जाकर के एनईएफटी और आरटीजीएस करना महंगा हो जाएगा।

Chandrayaan-2  अभी भी लगा रहा है चांद के चक्कर!

बैंक शाखा से आरटीजीएस करने पर 2 लाख से 5 लाख तक 20 रुपये और 5 लाख से ऊपर पर 40 रुपये और जीएसटी चार्ज भी साथ में लगेगा।एनईएफटी करने पर 10 हजार रुपये पर दो रुपये, 10 हजार से एक लाख रुपये पर चार रुपये ,एक लाख से दो लाख रुपये पर 12 रुपये ,दो लाख रुपये से ऊपर 20 रुपये एवं जीएसटी चार्ज अलग लगेगा।

Chandrayaan-2 : मोदी से गले लगकर फूटकर रो पड़े इसरो अध्यक्ष, देखें Video

-मृदुल त्रिपाठी

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.