website counter widget

BJP की राजनीतिक पिच पर शतक लगाएंगे गांगुली!

0

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Former Team India captain Sourav Ganguly ) का भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India ) का अध्यक्ष बनना लगभग तय हो गया है। इसी के साथ अब यह कहा जा  रहा  है कि वे जल्द ही भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party ) में शामिल (Sourav Ganguly Will Join BJP ) होने जा वाले हैं। गांगुली की बीसीसीआई (BCCI ) अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति को भाजपा का बड़ा योगदान माना जा रहा है। खेल जगत से लेकर राजनीतिक जगत तक इस बात पर बहस तेज हो गई है कि भाजपा के कहने पर पार्टी जॉइन (Sourav Ganguly Join BJP) करने के एवज में गांगुली को बीसीसीआई का अध्यक्ष बनाया जा रहा है।

APJ Abdul Kalam Jayanti : मिसाइलमैन कलाम जी की 88वीं जयंती पर सादर नमन

2021 में बंगाल में होने वाले चुनाव में बीजेपी का चेहरा

जानकारों का कहना है कि सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और भाजपा के बीच समझौता हुआ है कि उन्हें बीसीसीआई का अध्यक्ष पद दिए जाने के बाद वे 2021 में बंगाल में होने वाले चुनाव में बीजेपी का चेहरा होंगे। इसीलिए बीसीसीआई अध्यक्ष पद की रेस में सौरव गांगुली के अलावा किसी का भी नाम नहीं है। किसी भी व्यक्ति ने भाजपा के इस फैसले के विरोध में जाने का साहस नहीं किया। पहले बृजेश पटेल के नामांकन की बात कही जा रही थी, लेकिन गांगुली (Sourav Ganguly Join BJP) के नाम पर सहमति के बाद उनकी दावेदारी खत्म हो गई। इतना ही नहीं यह भी कहा जा रहा है कि अमित शाह के बेटे जय शाह को सचिव पद के लिए चुना जाने वाला है। इसके बाद अब लोगों ने भाजपा पर मिलीभगत का आरोप लगाया है।

कांग्रेस में शामिल BJP के कई बागी विधायक!

गांगुली की एंट्री पर शाह का बयान

गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने सौरव गांगुली के भाजपा में शामिल होने की अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि इस तरह की कोई डील नहीं हुई है और न ही कोई बातचीत हुई है।  यह सिर्फ सौरव गांगुली के खिलाफ गलत बातें कही जा रही हैं। अगर वे भाजपा में आते हैं तो उनका स्वागत होगा। अगर वह ऐसा करते हैं तो यह अच्छा है, लेकिन ऐसी कोई डील नहीं हुई है।

कांग्रेस मरे हुए अजगर की तरह अचेत और निष्क्रिय

      – Ranjita Pathare

 

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.