Sonbhadra Murder Case : सोनभद्र के पीड़ित परिवार से मिली प्रियंका गांधी

0

सोनभद्र हत्याकांड (Sonbhadra Murder Case) के पीड़ितों से मिलने की जिद पर अडी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) आखिर पीड़ित परिवारों से मिल ही ली, लेकिन प्रशासन ने उन्हें गाँव नहीं जाने दिया। योगी सरकार ने ऐसा रास्ता निकाला की जिससे प्रियंका गांधी की भी हार नहीं हुई और ना ही योगी सरकार की हार हुई। प्रशासन ने हत्याकाण्ड के पीड़ित परिवार को ही उस गेस्ट हाउस में प्रियंका से मिलवाया जहाँ वे कल से धरने पर बैठी हैं।

सोनभद्र में प्रियंका की NO ENTRY पर मायावती का सरकार पर पंच

पीड़ितों से मिलने की जिद के कारण प्रियंका गाँधी वाड्रा को गिरफ्तार किया गया था, इसके बाद उन्हें गेस्टहाउस में कैद में रखा गया। अपनी गिरफ्तारी के बाद उन्होंने कहा था, “मैंने न कोई कानून तोड़ा है न कोई अपराध किया है। बल्कि सुबह से मैंने स्पष्ट किया था कि प्रशासन चाहे तो मैं अकेली उनके साथ पीड़ित परिवारों से मिलने आदिवासियों के गांव जाने को तैयार हूं, या प्रशासन जिस तरीके से भी मुझे उनसे मिलाना चाहता है मैं तैयार हूं, लेकिन उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा मुझे पिछले 9 घंटे से गिरफ्तार करके चुनार किले में रखा हुआ है। ”

बड़ी कार्रवाई, एक साथ 16 आतंकी गिरफ्तार

17 जुलाई को सोनभद्र के उभ्भा गांव में 90 बीघा खेत के लिए 11 ग्रामीणों को मौत के घाट उतार दिया गया था। लगभग चार करोड़ रुपए की कीमत की इस जमीन के लिए प्रधान और उसके पक्ष ने ग्रामीणों पर अंधाधुन फायरिंग कर दी थी। इस हादसे में 25 अन्य लोग घायल हो गए थे। ग्रामीणों ने हादसे के बाद बताया था कि गांव का प्रधान यज्ञदत्त गुर्जर 32 ट्रैक्टर लेकर पहुंचा था। इन ट्रैक्टरों पर लगभग 60 से 70 लोग सवार थे। यह लोग अपने साथ लाठी-डंडा, भाला-बल्लम और राइफल और बंदूक लेकर आए थे।

Share.