शिवसेना ने स्वीकारा बड़े भाई जैसी भाजपा !

0

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Elections 2019) आने वाले हैं, जिसकी सभी पार्टियों ने ज़ोरों-शोरों से तैयारियां शुरू कर दी है। पहले भाजपा (Bharatiya Janata Party) और शिवसेना (Shiv Sena) के गठबंधन को लेकर हंगामा हो रहा था। दोनों पार्टियां सीटों के बँटवारे को लेकर आदि हुई थी, लेकिन बाद भारतीय जनता पार्टी की बात मानकर शिवसेना ने गठबंधन के लिए हामी भर दी। अब भारतीय जनता पार्टी को शिवसेना का बड़ा भाई बताया जा रहा है। अब शिवसेना ने गठबंधन को लेकर अपने मुखपत्र सामना मे एक आर्टिकल छापा है।

मध्य प्रदेश में दिवाली पर दिवालिया करेगी महंगाई

शिवसेना ने सामना में अपने लेख में लिखा, “युति होने पर यहां-वहां चलता ही रहता है। शिवसेना के बारे में इस बार ये मानना पड़ेगा कि लेना कम और देना ज्यादा हुआ है, लेकिन जो हमारे हिस्से आया है उसमें शत-प्रतिशत यश पाने का हमारा संकल्प है। भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी पार्टी बन चुकी है। कई पार्टियों के प्रमुख लोग महाराष्ट्र में उनकी चौखट पर बैठे हैं। उनकी मेहमाननवाजी करने के लिए बड़ा ग्रास देना होगा और हमने अपना दिल बड़ा करके इसे स्वीकार किया है।”

चीन के नेशनल डे पर भारत-चीन सैनिकों की मित्रवत बैठक, शांति का लिया संकल्प

शिवसेना ने आगे लिखा, “ राजनीति में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं। हवा के साथ बह जाने वाले पक्षी हम नहीं। शिवसेना का गरुड़ आकाश को छूनेवाला और आच्छादित करनेवाला है। उसमें अब ‘युति’ का मुहूर्त मिल गया है और महाराष्ट्र के रण में औरों ने भी ताल ठोंकी है, लेकिन कमजोर जांघ पर ताल ठोंककर क्या होगा? कांग्रेस आघाड़ी के तार भले ही जुड़ गए हों लेकिन वे मुड़ेंगे क्या? ये सवाल बना हुआ है। कल तक यार्ड में खड़े इंजन को भी धक्का मारने का काम शुरू है। वंचित आघाड़ी और एमआईएम की हालत इतनी फटी हुई है कि उसे सिला जाए या एक ओर रख दिया जाए, ये जनता ही तय करेगी। विरोधियों के बारे में ऐसा कुछ कहा जा सकता है क्या? मैदान में उतरना आसान होता है लेकिन मैदान में टिकना कठिन होता है। ”

Lal Bahadur Shastri Birth Anniversary : लाल बहादूर शास्त्री  के जीवन से जुड़ी कुछ खास बातें

     – Ranjita Pathare

 

Share.