website counter widget

उद्धव ने खोला राज़, बताया क्यों छोड़ा बीजेपी का साथ

0

महाराष्ट्र (Maharashtra ) में सत्ता का खेल अभी भी जारी ही है। शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस (Shiv SenaNCP Congress Alliance ) के गठबंधन पर बस मोहर लगना तय है। ऐसे मौके पर शिवसेना के उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री (Uddhav Thackeray will become Maharashtra  Chief Minister ) बनने से इनकार कर दिया और इसके बाद ही एक बड़ा राज़ खोला। उन्होने बताया कि आखिर क्यों वे भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party ) से अलग हुए। क्योंकि उन्हें अपनी विचारधाराओं से समझौता करना पड़ा। अब वे कांग्रेस और एनसीपी के साथ सरकार बनाने को तैयार है।

मप्र के खंडवा में तितली में नजर आये हनुमान, दर्शन को लगी भीड़

झूठी भाजपा

शिवसेना (Maharashtra Shiv Sena) के विधायकों की बैठक में उद्धव ठाकरे ने कहा कि आपको समझना होगा कि हमने अपने पुराने दोस्त के साथ 25 साल पुराना साथ क्यों छोड़ा, वो हमसे झूठ बोल रहे थे। आप सभी ने देखा है कि उन्होंने पिछले सालों में क्या कहा है और क्या किया है। अब हम एक नए गठबंधन के साथ जा रहे हैं, इसमें अभी आखिरी स्टेज चल रही है। जो आज शाम तक फाइनल हो जाएगा।

उद्धव ठाकरे नहीं बनेंगे महाराष्ट्र के सीएम

शिवसेना (Maharashtra Shiv Sena) में फिलहाल इस बात पर मंथन चल रहा है कि सूबे का सरदार यानि सीएम किसे बनाया जाए। विधायकों की ओर से लगातार मांग की जा रही है कि उद्धव ठाकरे को ही मुख्यमंत्री पद संभालना चाहिए। जिसपर उन्होंने सिर्फ इतना ही कहा कि वह सही समय पर फैसला लेंगे। अब  कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना की शुक्रवार शाम को होने वाली बैठक में स्थिति साफ हो जाएगी और यह भी तय हो जाएगा कि कौन मुख्यमंत्री बनेगा। वहीं शिवसेना के संजय राऊत ने कहा था कि दिसंबर से पहले महाराष्ट्र में एक स्थायी सरकार बनेगी और इस पर अंतिम निर्णय एक या दो दिन में हो जाएगा। शिवसेना और कांग्रेस-राकांपा के बीच लगातार बातचीत का दौर जारी है। राउत ने कहा था कि सरकार के गठन के तौर तरीकों पर आगे चर्चा करने के लिए तीनों पार्टियों के बीच मुंबई में दूसरे चरण की बैठक होगी। उन्होंने संवाददाताओं को बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बीच इस सप्ताह बैठक की कोई योजना नहीं है।

आजम के बाद पत्नी और बेटा भी गिरफ्तार!

         – Ranjita Pathare

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.