website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

‘सामना’ में सुशासन सरकार!

0

उत्तरप्रदेश में हुए शराब कांड से पूरेदेश में तहलका मच गया है| इस शराब कांड में लगभग 100 लोगों की मौत हो गई वहीं कई लोग अभी भी ज़िंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं| इसे लेकर योगी सरकार पर विपक्ष द्वारा निशाने साधे गए| अब शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में योगी सरकार पर निशाना साधा|

Image result for सामना

दरअसल, शिवसेना ने यूपी में हुए शराब कांड को लेकर अपने मुखपत्र सामना में एक आर्टिकल छापा है| इसमें लिखा है, “पहले उत्तर प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति समय पर न किए जाने के चलते असंख्य मासूमों ने तड़पकर दम तोड़ दिया था और अब जहरीली शराब ने सवा 100 लोगों की बलि ली है इतना होने के बावजूद ‘यही हमारा सुशासन है’ इस तरह का लोकगीत ये गा रहे हैं| उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से आनेवाली शराब कांड की बलि की खबरें मन को सुन्न करनेवाली हैं|

Image result for सामना

जहरीली शराब पीने के कारण चार दिनों से इन दोनों राज्यों में कीड़े-मकोड़ों की तरह लोग मर रहे हैं| गुरुवार से मौतों का यह सिलसिला जारी है और थमने का नाम नहीं ले रहा है| पहले दिन जब जहरीली शराब के सेवन की खबर आई तब कुछ ही घंटों में मरनेवालों का आंकड़ा 25 के ऊपर चला गया और पिछले 4 दिनों में मौत का आंकड़ा 125 के ऊपर पहुंच गया है| विशेष रूप से उत्तर प्रदेश के सहारनपुर और कुशीनगर जिलों में जहरीली शराब कांड से हाहाकार मचा हुआ है|”

उत्तराखंड का हरिद्वार पवित्र तीर्थ क्षेत्र ‘देवभूमि’ के रूप में पहचाना जाता है| लेकिन वहां भी चार दिनों से जहरीली शराब के कारण मरनेवाले लोगों के रिश्तेदारों का आक्रोश जारी है| जिन-जिन गांवों में यह शराब पहुंची हर उस गांव में मौत का तांडव जारी है| जिन छोटे-बड़े विक्रेताओं ने ये शराब बेची, उन्होंने भी इस शराब का सेवन किया और वे भी खत्म हो गए| शराब कांड में मरनेवाले सभी लोग गरीब परिवारों से हैं| छोटे-छोटे काम करनेवाले मजदूर हैं| दिनभर मेहनत और मजदूरी करना और उस दिन जो कमाया है उसी से अपने परिवार का वे पेट पालते थे| मेहनत का काम करने के बाद थकान को दूर करने के लिए वे सस्ती हाथभट्ठी की शराब पीते थे| मजदूर वर्ग का यह रोज का मानो नियम बन ही गया था| मगर थका हुआ बदन तत्काल गहरी नींद में सो जाए इसलिए पी गई जहरीली शराब और पीने के बाद लगी नींद जानलेवा साबित होगी, ऐसा उन्हें थोड़े ही पता था?”

       – रंजीता

 

अखिलेश यादव से डरी सरकार!

 

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.