महाराष्ट्र में शिवसेना ने थामा कांग्रेस का हाथ!

0

महाराष्ट्र (Maharashtra)  में  कुर्सी की रेस को लेकर शुरू हुआ दंगल खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। शिवसेना (Shiv Sena) अपने 50-50 वाले फॉर्मूले के तहत सरकार बनाने की चाह रख रही है, लेकिन भाजपा (Bharatiya Janata Party) ने फिलहाल चुप्पी तोड़ दी है। भाजपा-शिवसेना (BJP-Shiv Sena) की तकरार के बीच कांग्रेस (Congress)  की बल्ले-बल्ले हो सकती है। महाराष्ट्र के सीएम देवेन्द्र फाड़नवीस (Maharashtra CM Devendra Fadnavis) ने कहा है कि वे शिवसेना के 50-50 वाले फॉर्मूले पर राजी नहीं है और उनके बयानों के कारण भी भाजपा को झटका लगा है ।

महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार! बीजेपी ने ठुकराया शिवसेना का 50-50 फॉर्मूला

टूटेगी वर्षों पुरानी मित्रता

हिन्दुत्व की राजनीति करने वाली भारतीय जनता पार्टी  (Bharatiya Janata Party)  और शिवसेना की वर्षों पुरानी मित्रता टूटने है है, क्योंकि  शिवसेना अभी भी अपनी पार्टी का मुख्यमंत्री बनाने पर अड़ी है वहीं भाजपा (bjp) भी अपनी पार्टी के  ही उम्मीदवार  को सीएम पर सौंपना चाहती है। दोनों पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से अलग-अलग समय पर मुलाक़ात की। इनके बीच मे कांग्रेस ने भी बयान जारी कर शिवसेना (Shiv Sena) को आमंत्रण दिया है कि वे उनके साथ मिलकर सरकार बनाने को तैयार है।

Article 370 और कश्मीर में परदेसियों पर बिफरी माया

शिवसेना के साथ सरकार बना सकती है कांग्रेस

विधानसभा में नेता विपक्ष विजय वडेट्टीवार ने कहा था कि यदि शिवसेना कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने का प्रस्ताव देती है तो महाराष्ट्र कांग्रेस इस मामले पर आलाकमान से बात करेगी। हमें विपक्ष की भूमिका दी गई है और हम उस भूमिका को निभाएंगे लेकिन अगर किसी विकल्प पर चर्चा की जानी है तो शिवसेना को हमारे पास आना चाहिए, उन्होंने अभी तक हमसे संपर्क नहीं किया है। गेंद बीजेपी के पाले में है।  यह शिवसेना को तय करना है कि वे 5 साल का सीएम चाहते हैं या 2.5 साल की सीएम की मांग पर बीजेपी की प्रतिक्रिया का इंतजार करते हैं।  यदि शिवसेना का प्रस्ताव हमारे पास आता है, तो हम हाईकमान से चर्चा करेंगे। वहीं शिवसेना ने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा था कि यदि भाजपा हमारी शर्ते नहीं मानेगी तो हमारे पाद दूसरे कई विकल्प मौजूद हैं, जिन पर अभी तक हमने विचार नहीं किया है।

EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर बरसे प्रियंका- ओवैसी 

       -Ranjita Pathare 

Share.