website counter widget

लोकसभा में गौ रक्षकों को बताया कुकुरमुत्ता

0

17वीं लोकसभा (Lok Sabha) के पहले सत्र में मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण ( President Kovind address) पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान जमकर बहस हुई। सदन की कार्रवाई में गौ रक्षकों की तुलना कुकुरमुत्तों (Gorakshak Compares With Mushrooms)  से की गई। इसके बाद कई सांसदों ने हंगामा शुरू कर दिया। मामले की शुरुआत कांग्रेस नेता शशि थरूर ( Shashi Tharoor, Member of Parliament, Lok Sabha) ने की। उन्होंने देश के कई शहरों में गौ रक्षा (Cow protection ) के नाम पर होने वाली हिंसा का मुद्दा सदन में उठाया।

इस देश ने की मेहुल चोकसी की नागरिकता रद्द, अब बचना मुश्किल

जानकरी के अनुसार, कांग्रेस नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने कहा कि देशभर में अवैध गौ संरक्षक समितियां हिंसक वारदातों को अंजाम दे रही हैं। क्या ऐसा नहीं हो सकता कि मान्यता प्राप्त समितियों को ही ये काम करने दिया जाए। उन्होंने सवाल किया कि गौ रक्षा राज्य का मुद्दा है, कुकुरमुत्तों की तरह (Gorakshak Compares With Mushrooms) यह देशभर में फैलकर हिंसक वारदातों को अंजाम दे रहा है। इन अवैध गौ संरक्षण समितियों पर सरकार कब कार्रवाई करेगी? यह समितियां हिंसा का अड्डा बनती जा रही है।

बच्ची से दुष्कर्म की कोशिश करने वाले को ग्रामीणों ने दी शर्मनाक सज़ा

कांग्रेस नेता शशि थरूर के सवाल के बाद केंद्रीय पशुपालन (Department of Animal Husbandry, Dairying & Fisheries) मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh, Member of parliament ) ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि थरूर साहब जो सवाल पूछ रहे हैं उसकी छानबीन की एक निश्चित प्रक्रिया है। मैं आपसे निवेदन करूंगा कि अगर आपको कोई विशेष आपत्ति है, जो निश्चित तौर पर उस पर कार्रवाई होगी। कृषि से ज्यादा पशुपालन से किसानों को आय, पशुधन के संरक्षण की पूरी व्यवस्था है।

50 खतरनाक बम के बाद, अब बंगाल से पकड़ाए ISIS संदिग्ध

आपके इस सवालों को गंभीरता से लेते हुए इस पर कार्रवाई की जायेगी। आज जहां कांग्रेस नेता ने गौ रक्षकों पर सवाल उठाया। वहीँ कल कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना गन्दी नाली से की थी।  हालाँकि उन्होंने बाद में अपने बयान पर माफ़ी भी मांग ली थी। चौधरी ने सफाई देते हुए कहा कि उनका इरादा प्रधानमंत्री का अपमान करना नहीं था और यदि मोदी को उनकी टिप्पणी से ठेस पहुंची है तो वह माफी मांगते हैं।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.