मना करने वाली महिलाओं के कपड़े फाड़ देता था चिन्मयानंद

0

छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayananda) की मुसीबतें और बढ़ गई है। अब हाल ही में सरकारी वकील ने उनके खिलाफ कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। सरकारी वकील अनुज सिंह ने कहा है कि जब भी कोई महिला भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के नेता और पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद (Chinmayanand) की बातें नहीं मानती थी तो वह उन महिलाओं के साथ हैवानों जैसा व्यवहार करता था। उनके कपड़े फाड़ देता था। अनुज सिंह (Anuj Singh) ने बताया कि युवती के इस बयान के आधार पर पूर्व केंद्रीय मंत्री के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 डी के तहत रेप का मामला दर्ज किया गया है। इसके साथ युवती ने और कई खुलासे किए हैं।

इमरान के चैनल पर इज़राइल का तंज

जानकारी के अनुसार, इस मामले में सुनवाई के दौरान एसआईटी ने कहा कि बीजेपी नेता के आश्रम के सुरक्षागार्ड सहित चार लोगों ने इस बात की पुष्टि की है कि पीड़ित छात्रा अक्सर ‘दिव्य धाम’ आया करती थी। चिन्मयानंद के आश्रम के एक कमरे के अंदर उसके साथ कई बार बलात्कार किया गया। आश्रम में ही वीडियो भी बनाया गया था। दिल्ली पुलिस के द्वारा एसआईटी को दी गई शिकायत और 161 और 164 सीआरपीसी के अंतर्गत बयान दर्ज करवाए हैं। इस बारे में पीड़िता ने कहा कि चिन्मयानंद ने उसके साथ कई बार रेप किया, और जब  भी उसने इसका विरोध किया तो उसके कपड़े फाड़ दिए गए।

NRC पर अमित शाह ने दिया बड़ा बयान

सरकारी वकील अनुज सिंह ने आगे बताया कि पीड़िता के आरोपों को मजबूत बनाने के लिए कई सबूत हैं, जो दिव्य धाम स्थित कॉलेज और लैब से जुटाए गए हैं। ऐसे में हमने शिकायतकर्ता की जमानत याचिका पर भी आपत्ति जताई है, जो जबरन वसूली मामले में एक आरोपी है। दोनों ही मामलों में, दोनों पक्षों के खिलाफ इलेक्ट्रॉनिक सबूत थे जो कि फोरेंसिक लैब (एफएसएल) द्वारा सत्यापित किए गए थे। इस बीच, एसआईटी के एक अधिकारी ने कहा कि जांच निष्पक्ष थी और हर उस व्यक्ति को आरोपी बनाया गया, जिसके खिलाफ प्रत्यक्ष सबूत मिले हैं। फिलहाल छात्रा भी जेल में बंद है। उसे स्वामी को ब्लेकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

अमेरिका को 30 मिनट में तबाह कर सकती है यह मिसाइल: चीन नेशनल डे परेड

 

Share.