खोजा गया निपा वायरस का इलाज

0

निपा वायरस ने लगभग पूरे केरल राज्य को अपनी चपेट में ले लिया है। तकरीबन एक महीने से केरल में मौत का आतंक फैलाने वाले निपा वायरस की कोई ठोस दवा नहीं है। इस निपा वायरस का सही इलाज ढूंढने के लिए देश के बड़े-बड़े डॉक्टर मेहनत करते नजर आ रहे हैं। इस बीच होम्योपैथिक मेडिकल एसोसिएशन का दावा है कि उन्होंने निपा वायरस के इलाज के लिए दवा तैयार कर ली है।

एसोसिएशन के अधिकारी बी. उन्नीकृष्णन ने कहा कि होम्योपैथिक में सभी तरह के बुखार के लिए उचित दवा है और उन्हें संक्रमित मरीजों का इलाज करने की अनुमति दी जानी चाहिए। एसोसिएशन ने राज्य स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा से निवेदन किया है कि उन्हें मरीजों की जांच करने की अनुमति दी जाए, जो निपा वायरस की जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं।

वहीं स्वास्थ्य सचिव राजीव सदानंदन ने मीडिया को बताया कि उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि होम्योपैथिक विभाग सीधे मेरे अधीन कार्य करता है और अब तक किसी ने मुझसे या विभाग से संपर्क नहीं किया है। हमें इसमें कोई समस्या नहीं है। सदानंदन ने कहा कि निपा वायरस की जांच के लिए अभी तक 196 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है, जिनमें 18 पॉजीटिव मामलों में से चार संक्रमित थे। हालांकि उनका सीधे तौर से मरीजों से कभी कोई संपर्क नहीं रहा।

Share.