वैज्ञानिकों को मिले पृथ्वी के आकार के ग्रह

0

हमारे सौरमंडल के बाहर कई ऐसे रहस्य हैं, जिन पर वैज्ञानिक रिसर्च करते रहते हैं| हाल ही में वैज्ञानिकों ने सौरमंडल के बाहर दो नई तारा प्रणालियों की खोज की है| जानकारी के अनुसार, इनमें से एक में पृथ्वी के आकार जितने तीन ग्रह और दूसरे में दो सुपर अर्थ हैं|

स्पेन की यूनिवर्सिटी ऑफ ओवियेडो और इंस्टीट्यूट डी एस्ट्रोफिजिका डी कैनारियस (आईएएस) के खगोलविदों ने ग्रह प्रणालियों का पता लगाने के लिए अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ के केपलर सेटेलाइट द्वारा के-2 मिशन के दौरान जुटाए गए डाटा का इस्तेमाल किया| सौरमंडल के बाहर ग्रहों की खोज के लिए के-2 मिशन 2013 में लॉन्च किया गया था।

सौरमंडल के बाहर ग्रहों की खोज के लिए नासा ने वर्ष 2013 में के-2 मिशन द्वारा आंकड़े एकत्रित किए गए थे| इस मिशन के दौरान जुटाए गए आंकड़ों का इस्तेमाल कर स्पेन की यूनिवर्सिटी ऑफ ओवियेडो और इंस्टीट्यूट डी एस्ट्रोफिजिका डी कैनारियस (आइएएस) के खगोलविदों ने तारा प्रणालियों का पता लगाया|

पहली तारा प्रणाली में ग्रह के-2-239 नामक लाल तारे का चक्कर लगा रहे हैं| यह सूर्य से 160 प्रकाशवर्ष दूर सेक्सटैंट तारामंडल में मौजूद हैं| पृथ्वी के बराबर आकार वाले तीन ग्रह क्रमश: 5.2, 7.8 और 10.1 दिन में अपने तारे की परिक्रमा पूरी करते हैं| दूसरी ग्रह प्रणाली में दो सुपर अर्थ के-2-240 तारे का चक्कर लगा रहे हैं| इन दोनों ग्रहों का आकार पृथ्वी से दोगुना है|

इन ग्रहों के-2-239 और के-2-240 के वायुमंडल का तापमान क्रमश: 3,450 और 3,800 केल्विन है, जो सूर्य के ताप का लगभग आधा है| वैज्ञानिकों का कहना है कि नए ग्रहों का तापमान पृथ्वी से अधिक होगा क्योंकि वह सभी अपने मूल तारे की नजदीकी कक्षा में हैं|

Share.