website counter widget

Saradha Chit Funds Scam : हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका

0

शारदा चिट फंड घोटाले (Saradha chit funds scam ) में आज यानी मंगलवार को सीबीआई (Central Bureau of Investigation) को बड़ा झटका लगा है। कलकत्ता हाईकोर्ट (Calcutta High Court) ने सुनवाई के दौरान सीबीआई की ओर से जारी याचिका खारिज कर दी। अब मामले की अगली सुनवाई 2 जुलाई को की जायेगी। सीबीआई ने इस मामले में  कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के मामले पर तत्काल सुनवाई की मांग की थी।

जानकारी के अनुसार, सात जून को केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से शारदा चिटफंड घोटाले में कई घंटे तक पूछताछ की। इस मामले में सीबीआई ने वरिष्ठ अधिकारी राजीव कुमार से फरवरी में शिलांग में पूछताछ की थी। यह पूछताछ सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हुई थी। पहले भी कई बार उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया, लेकिन वे अवकाश न होने की बात कहकर टाल देते थे। इसके बाद कोर्ट ने सख्त कार्रवाई का आदेश सुनाया था। जांच एजेंसी ने कुमार के लिए बीते महीने एक लुकआउट नोटिस जारी किया है। इसके बाद कुमार ने कलकत्ता हाई कोर्ट से संपर्क किया और अपने खिलाफ सीबीआई नोटिस को रद्द करने की मांग की। इस मामले में बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भी अधिकारी राजीव कुमार के समर्थन में आई थी।

क्या है शारदा चिट फंड घोटाला

शारदा चिटफंड और रोज वैली स्कैम पश्चिम बंगाल का बहुचर्चित मामला है। चिटफंड में घोटाला सामने आने के बाद टीएमसी के कई बड़े नेताओं का नाम जुड़ा। मामले में कंपनी पर आरोप लगाए गए हैं कि पैसे ठगने के लिए लोगों से लुभावने वादे किए थे और पैसे को 34 गुना करके वापस करने के लिए कहा गया था। इसमें 40 हजार करोड़ की हेरा-फेरी की गई थी। साल 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी करते हुए सीबीआई से कहा था कि वो इस मामले की जांच करे। इसमें यह भी आरोप लगे हैं कि शारदा ग्रुप ने महज 4 साल में पश्चिम बंगाल के अलावा झारखंड, ओडिसा और नार्थ ईस्ट के राज्यों में अपने 300 ऑफिस खोल लिए। पश्चिम बंगाल की इस कंपनी ने लोगों से 20,000 करोड़ रूपये लेकर सारे ऑफिस बंद कर दिए।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.