website counter widget

Kamlesh Tiwari Murder Case : ISIS का कनेक्शन, एसआईटी का गठन

0

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में हिन्दू समाज पार्टी (Samajwadi Party ) के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड (Kamlesh Tiwari Murder Case ) से हंगामा मचा हुआ है। इस मामले के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने विशेष जांच दल (Special investigation team) का गठन किया है। बेरहमी से हुई हत्या के पुलिस सुराग जुटाने में लगी है। कमलेश तिवारी के परिवार वाले हत्या को लेकर आक्रोश में हैं। परिवार ने सरकार से 5 करोड़ का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी की मांग की है।

सावरकर मामले पर बीजेपी पर बरसी शिवसेना

ISIS का कनेक्शन!

ऐसा भी कहा जा रहा है कि कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari Murder Case) आईएसआईएस के निशाने पर थे। उन्हें आतंकी उबैद मिर्जा और कासिम सिंबरवाला ने जान से मारने की धमकी भी दी थी। दोनों आतंकियों को एंटी टेररिस्ट स्क्वॉयड (एटीएस) ने 24 अक्तूबर 2017 को गुजरात में गिरफ्तार किया था। घटना स्थल का एक नया सीसीटीवी ​फुटेज भी सामने आया है, जिसमें आरोपियों के साथ एक महिला भी बाइक पर दिख रही है। ये वीडियो खुर्शीदबाग इलाके का ही है। इस वीडियो में वो दोनों आरोपी भी नजर आ रहे हैं।  आरोपियों ने तिवारी के साथ 36 मिनट तक बातचीत की, इसके बाद चाय-नाश्ता करते रहे और फिर मौका देखकर हत्या करके मौके से फरार हो गए। पहले पुलिस दो लोगों की ही तलाश कर रही थी, लेकिन अब वे महिला की भी तलाश कर रही है।

‘मिया भाई’ गाने पर थिरकते हुए नजर आये ओवैसी :Video viral

कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari Murder Case) के परिवार वाले मुआवजा मांग रहे हैं और इसके साथ ही परिवार वालों का कहना है कि जब तक मांग पूरी नहीं हो जाती वो अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। शुक्रवार का पूरा दिन गुजर गया, लेकिन हत्यारों का कोई सुराग नहीं मिला।  कमलेश तिवारी ने 2018 में अपनी हत्या की आशंका जताई थी, सरकार की ओर से सुरक्षा भी मिली लेकिन कातिल अपने प्लान में कामयाब हो गए। परिवार वाले हत्यारों के लिए फांसी की सजा मांग रहे हैं।

BSNL कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी

   – Ranjita Pathare

 

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.