हाई कोर्ट में साक्षी-अजितेश की पिटाई, प्रेमी जोड़े का अपहरण

0

उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार कई कारणों से आलोचनाओं का शिकार हो रही है। योगीराज (Yogi Government) में अपराधी कानून को ताक पर रखकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। स्थिति इतनी बुरी हो गई है कि कोर्ट परिसर से भी दिनदहाड़े अपहरण के मामले सामने आ रहे हैं। सुरक्षा की मांग करने वालों को भी निशाना बनाया जा रहा है।

VIDEO : एडवेंचर पार्क में टूटा झूला, कई की मौत

योगी राज में इलाहाबाद हाई कोर्ट परिसर में भी लोग सुरक्षित नहीं, सुरक्षा मांगने पहुंचे प्रेमी जोड़े का अपहरण दिनदहाड़े अपहरण के मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला प्रयागराज का है। जहां इलाहाबाद हाई कोर्ट में सुरक्षा की मांग करने पहुंचे युवक और युवती का अपहरण कर लिया गया। युवक और युवती बिजनौर के रहने वाले थे और बंदूक की नोक पर उनका अपहरण किया गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया की एक काले रंग की गाड़ी कोर्ट के गेट के बाहर पहुंची और उसमें बैठे लोग बंदूक की नोक पर युवक और युवती को उठाकर ले गए। बताया जा रहा है कि युवक और युवती ने प्रेम विवाह किया है और हाई कोर्ट में पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने की गुहार लगाने आए थे। इसी बीच उनका अपहरण कर लिया गया।

एक और दुखद हादसे में कई लोगों की मौत

हाईकोर्ट में साक्षी-अजितेश की पिटाई

बरेली के बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा की ओर से सुरक्षा की मांग को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में दाखिल याचिका पर आज सुनवाई हुई। सुनवाई से पहले साक्षी के पति अजितेश की कोर्ट परिसर में पिटाई भी की गई है। जितेश की पिटाई वकील के भेष में बड़ी संख्‍या में हाईकोर्ट में मौजूद लोगों ने की है। 3 जुलाई से साक्षी और उनके पति घरवालों से छुपकर भाग रहे हैं। दंपति शुक्रवार को एक समाचार चैनल पर आए और बरेली से भाजपा के विधायक व साक्षी के पिता राजेश मिश्रा पर आरोप लगाया कि वह जाति कारणों से विवाह के खिलाफ हैं। इसके बाद भी मामला शांत नहीं हुआ है।

आखिरी समय में क्या हुआ ऐसा कि नहीं हुई Chandrayaan-2 की लॉन्चिंग

 

Share.