साध्वी प्रज्ञा के बयान पर ओवैसी ने सरकार के लिए फिर उगली आग

0

साध्वी प्रज्ञा के बयान के बाद मचा बवाल थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब हैदराबाद से सांसद और AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी सरकार पर हमला किया है। उन्होने कहा कि 2 फरवरी 1948 को लोकसभा स्पीकर ने राजनीतिक हिंसा की निंदा की थी। मैं सिर्फ सरकार से जानना चाहता हूं कि नाथूराम गोडसे कातिल था या देशभक्त था? सांसद को कहना चाहिए कि नाथूराम गोडसे देशभक्त नहीं था, आतंकवादी था।

सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में मांगी माफी, लेकिन…

ओवैसी ने आगे कहा कि हात्मा गांधी के कत्ल के बाद संविधान सभा में पूरे एक दिन बहस हुई। मैं आपके जरिए से सरकार से जानना चाहता हूं कि क्या नाथूराम देशभक्त था या कातिल था। टिप्पणी रिकॉर्ड में नहीं हैं। यह एक बड़ा उल्लंघन है और सदस्य के आचरण के बुनियादी मानक के खिलाफ जाता है। सदस्य को स्पष्ट रूप से कहना चाहिए कि गोडसे ‘देशभक्त’ नहीं है, वह आतंकवादी है और गांधी का हत्यारा है

कांग्रेस विधायक जिंदा जलाने जा रहे है सांसद प्रज्ञा को!अणि

प्रज्ञा ने मांगी माफी

प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में माफी मांगते हुए कहा कि बीते घटनाक्रम में सबसे पहले मैं सदन में मेरे द्वारा की गई किसी भी टिप्पणी से यदि किसी को ठेस पहुंची हो तो उसके लिए खेद प्रकट करते हुए माफी मांगती हूं, लेकिन मैं यह भी कहना चाहती हूं कि संसद में दिए मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर गलत ढंग से पेश किया गया। मेरे बयान का संदर्भ कुछ और था, जिसे गलत ढंग से इस रूप में प्रस्तुत किया गया। जिस प्रकार से मेरे बयान को तोड़ा मरोड़ा गया है। वह निंदनीय है। मैं देश के प्रति महात्मा गांधी के योगदान का सम्मान करती हूं। सदन में माफी मांगने के साथ ही साध्वी ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। उन्होने कहा कि मुझे आतंकी कहा गया है। साध्वी प्रज्ञा ने राहुल गांधी के खिलाफ नोटिस भी जारी किया।

   – Ranjita Pathare 

Share.