website counter widget

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने शिवसेना पर लगाया बड़ा इल्जाम

0

महाराष्ट्र में चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद लगभग 1 महीना पूरा होने को है लेकिन अब तक राज्य में सरकार का गठन नहीं हो सका। वहीं पूरे राज्य में सियासी घमासान मचा हुआ है। जहां शिवसेना (Shiv Sena) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ चुनाव लड़ा और नतीजे आने के बाद मुख्यमंत्री पद की लड़ाई के चलते उससे अपना लगभग 35 साल पुराना रिश्ता तोड़ दिया। वहीं अब शिवसेना राज्य में सरकार बनाने की पुरजोर कोशिश कर रही है। शिवसेना लगातार NCP और Congress से चर्चा कर रही है। इस दौरान शिवसेना और भाजपा बीच-बीच में बयानबाजी करते हुए एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। महाराष्ट्र की इस सियासी लड़ाई में अब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) भी कूद पड़ा है। दरअसल भाजपा से नाता तोड़ने पर शिवसेना को संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने स्वार्थी करार दे दिया।

आयोध्या फैंसले के बाद राम बारात में पीएम मोदी और सीएम योगी बने बाराती!

हालांकि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने शिवसेना (Shiv Sena) का नाम नहीं लिया लेकिन बातों-बातों में उसे स्वार्थी करार दे दिया। समझने वाले भी इस बात को भली भांति समझ गए कि संघ प्रमुख मोहन भागवत किसे निशाना बना रहे हैं। भागवत ने सिर्फ शिवसेना ही नहीं बल्कि भाजपा (BJP) पर भी निशाना साधा। मोहन भागवत ने कहा कि लड़ाई-झगडे से किसी का भी फायदा नहीं होता बल्कि आपसी झगडे से हमेशा दोनों पक्षों को ही नुक्सान उठाना पड़ता है। वहीं उन्होंने कहा की स्वार्थ बेहद खराब होता है।

SBI लाया खुशखबरी, SBI के ATM कार्ड से जनरल स्टोर पर मिलेगा कैश

गौरतलब है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) मंगलवार को नागपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सभी को संबोधित कर रहे थे। अपने संबोधन में मोहन भागवत ने आगे कहा कि, इस बात से सभी परिचित हैं कि स्वार्थ खराब बात है। उन्होंने कहा कि ख़राब होने के बाद भी स्वार्थ को बेहद कम लोग ही छोड़ पाते हैं। उन्होंने कहा कि आप चाहें देश में देखें या फिर विदेश में, हर जगह स्वार्थ देखने को मिलता है। मोहन भागवत ने आपसी झगड़े के नुक्सान भी गिनाए। उन्होंने कहा कि आपसी झगड़े दोनों पक्षों को नुक्सान होता है इस बात को भी सभी जानते हैं लेकिन बावजूद इसके लोग आपस में झगड़ना नहीं छोड़ते।

नए फॉर्मूले के साथ शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस में बनी बात

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.