देश में विषैली हो रही हैं नदियां

0

भारत में नदियों की सफाई हमेशा चर्चा का विषय रहती है| सरकार इस मुद्दे पर कई वादे करती है और नदियों की सफाई के लिए कई योजनाएं भी चल रही हैं, लेकिन रिपोर्ट्स इन सभी दावों को झूठा साबित करती हैं|

दिल्ली स्थित सेंटर फॉर साइंस एंड एनवॉयर्नमेंट (सीएसई) ने देश की नदियों को लेकर एक स्टडी की है| इसमें देश की 445 नदियों के पानी का अलग-अलग जगह पर टेस्ट किया गया| इस टेस्ट के नतीजे बताते हैं कि नदियों का प्रदूषण सामान्य नहीं है| इन नदियों के पानी में मानक से बहुत ज्यादा हेवी मेटल क्रोमियम, कॉपर, निकेल, लेड और आयरन जैसे तत्व पाए गए| इस कारण इन नदियों का पानी इस्तेमाल लायक नहीं रहा और इन प्रदूषित नदियों के पानी से गंभीर बीमारियां होने का खतरा है|

स्टडी के अनुसार, देश की कुल 275 नदियां प्रदूषित हैं। सबसे ज्यादा गंदा पानी गंगा और ब्रह्मपुत्र का है| इससे पहले साल 2009 में भी नदियों का एक सर्वे किया गया था, जिसमें देश की 121 नदियों को प्रदूषित कैटेगरी में रखा गया था यानी पिछले 9 साल में 154 और नदियों का पानी गंदा हो गया है|

Share.