‘थ्री इडियट्स’ के असली फुनसुक वांगड़ू होंगे सम्मानित

0

वर्ष 2009 में रिलीज़ फिल्म ‘थ्री इडियट्स’ को हम सभी ने देखा है| आमिर खान स्टारर यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई थी| आमिर ने इस फिल्म में फुनसुक वांगड़ू नामक एक किरदार अदा किया था| यह किरदार आज भी हम सभी के जेहन में है| रील लाइफ के फुनसुक वांगड़ू ने  तो हम सभी का का मनोरंजन किया था, लेकिन क्या आप रीयल लाइफ के फुनसुक वांगड़ू को जानते हैं? शायद नहीं|

आमिर खान का यह किरदार सोनम वांगचुक से प्रेरित था और इस समय वे काफी चर्चा में चल रहे हैं| सोनम वांगचुक को इस साल का ‘रैमन मैग्सेसे अवॉर्ड’ दिया जाएगा| इस वजह से वे सुर्ख़ियों में बने हुए हैं| उनके साथ डॉ. भारत वटवानी को भी  मैग्सेसे अवॉर्ड दिया जाएगा| इस बार कुल 6 लोगों को इस सम्मान के लिए चुना गया है| एशिया का नोबेल पुरस्कार माने जाने वाले ‘रैमन मैग्सेसे अवॉर्ड’ को एशिया के व्यक्तियों एवं संस्थाओं को अपने क्षेत्र में विशेष रूप से उल्लेखनीय कार्य करने के लिए प्रदान किया जाता है|

51 वर्षीय सोनम वांगचुक ने लद्दाख में शिक्षा, संस्कृति और पर्यावरण के जरिये सामुदायिक प्रगति के लिए काम किया है| सोनम वांगचुक ने वर्ष 1988 में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करने के बाद ‘स्टूडेंट्स एजुकेशन एंड कल्चरल मूवमेंट ऑफ लद्दाख’ की स्थापना की और लद्दाखी छात्रों को कोचिंग देना शुरू किया| वर्ष 1994 में वांगचुक ने ‘ऑपरेशन न्यू होप’ शुरू किया|

सोनम को एसईसीएमओएल परिसर को डिजाइन करने के लिए भी जाना जाता है, जो पूरी तरह से सौर-ऊर्जा पर चलता है और खाना पकाने, प्रकाश या तापन (हीटिंग) के लिए जीवाश्म ईंधन का उपयोग नहीं करता है|

Share.