POCSO संशोधन बिल पर TMC सांसद ने सुनाई दर्दभरी आपबीती 

0

राज्यसभा में लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण (POCSO) संशोधन विधेयक, 2019 पारित तो हो गया, लेकिन उस दौरान कुछ ऐसा भी हुआ कि सभी दंग रह गए। इस बिल का सभी दलों ने समर्थन किया, इसे अब लोकसभा भेजने की तैयारी भी हो चुकी है, बच्चों के खिलाफ अपराध के मामलों में फांसी की सजा का भी प्रावधान किया गया , उसी समय टीएमसी विधायक डेरेक ओ ब्रायन (TMC MLA Derek Obrien Shares Sex Abuse Story ) ने बताया कि वे जब 13 साल के थे तब उनके साथ भी यौन शोषण हुआ था।

मध्यप्रदेश बीजेपी के चार विधायक कांग्रेस में शामिल!

संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा (Derek Obrien Shares Sex Abuse Story), “ये बहुत साफ़ है कि शोषण की शुरुआत कहां से होती है। घर से,  ज़रूरी है लोग इसके बारे में बात करें।  ख़ासतौर पर वो लोग जो पब्लिक की निगाह में रहते हैं। इससे बातचीत शुरू होगी, जितना ज़्यादा ये लोग खुलकर बात करेंगे, बच्चों को अपनी बात कहने में उतनी ही आसानी होगी। इसलिए मैं शुरुआत करना चाहता हूं। अपनी बात कहना चाहता हूं। बहुत ही दुःख, तकलीफ़ पर हिम्मत के साथ मैं अपने साथ हुई घटना सबके साथ शेयर करना चाहता हूं। मेरे घरवाले इस बारे में जानते हैं, पर मैं चाहता हूं कि पूरा देश भी इस बारे में जाने। जब मैं 13 साल का था तो कोलकाता की एक बस में मेरा यौन शोषण हुआ था। ”

VIDEO : पुलिस को गाली दे रहे बीजेपी नेता को SSP ने सिखाया सबक

उन्होंने आगे कहा (Derek Obrien Shares Sex Abuse Story), “मैं टेनिस प्रैक्टिस से लौट रहा था। मैनें एक शॉर्ट-पैंट और टी-शर्ट पहनी हुई थी। मैं बस पर चढ़ा, वो भरी हुई थी। एक आदमी ने मेरे शॉर्ट्स पर मास्टरबेट किया। मैनें किसी से कुछ नहीं कहा। पर अब मैं बोल सकता हूं। हमें इस जगह को स्टेज की तरह इस्तेमाल करना चाहिए। जहां से हम अपनी बात कह सकते हैं। लोगों तक अपनी बात पहुंचा सकते हैं। जितना ज़्यादा हम इस बारे में बात करेंगे, उतने बच्चों को हम बचा पाएंगे। ”

Triple Talaq Bill : मुस्लिम बहनों को ऐसे नहीं छोड़ सकते

उन्होंने आगे कहा कि मुझे नहीं पता कि वो कौन था, लेकिन तब मेरा यौन उत्पीड़न हुआ था। समाज में अब पुरुषों को भी इस तरह की घटनाओं का उल्लेख करने में संकोच नहीं करना चाहिए। इस विधेयक में चाइल्ड पोर्नोग्राफी को परिभाषित किया गया है ताकि ऐसे अपराधों को रोकने में मदद मिल सके। मैंने तब माता-पिता को नहीं बताया। हमें लोगों तक पहुंचने के लिए इस मंच का उपयोग करने की जरूरत है। जितना अधिक लोग इसके बारे में बात करेंगे, उतने ही बच्चे बचाए जा सकते हैं। हमें इस जघन्य अपराध को रोकने की दिशा में काम करना होगा।

Share.