नहीं पहुंचे विपक्ष के कई नेता

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को कांग्रेस की ओर से इफ़्तार पार्टी का आयोजन किया| कांग्रेस पार्टी की कमान संभालने के बाद राहुल गांधी ने पहली बार  इफ़्तार पार्टी दी| राहुल गांधी की इफ़्तार पार्टी में विपक्षी दलों के बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन इसमें कई दिग्गज नहीं पहुंचे| खासकर थर्ड फ्रंट बनाने की अगुवाई करने वाले नेताओं की गैरमौजूदगी चर्चा का विषय बन गई|

दिलचस्प बात यह रही कि इसमें कई ऐसे नेता भी नहीं पहुंचे, जो साल 2015 में सोनिया गांधी की इफ़्तार पार्टी में शामिल हुए थे| इसमें नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और एनसीपी प्रमुख शरद पंवार शामिल हैं| इनके अलावा राहुल गांधी की इफ़्तार पार्टी में शिरकत नहीं करने वाले नेताओं में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, आरएलडी के अजीतसिंह, बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और बसपा सुप्रीमो मायावती शामिल हैं|

बताया जा रहा है कि राजद नेता तेजस्वी यादव इसलिए राहुल गांधी की इफ़्तार पार्टी में नहीं पहुंचे क्योंकि उन्होंने भी पटना में इफ़्तार पार्टी का आयोजन किया था| राहुल गांधी ने इफ़्तार पार्टी में 18 विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया था| इनमें माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, डीएमके की सांसद कनिमोझी, तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी, बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा, एनसीपी के डीपी त्रिपाठी, जदयू के पूर्व नेता शरद यादव आदि शिरकत करने पहुंचे|

इसके अलावा इस महीने के शुरुआत में आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी आदि नेता शामिल हुए|

Share.