NIA की ढिलाई के चलते पुलवामा का आरोपी युसूफ चोपन बाहर

0

देश को हिला देने वाले पुलवामा हमले (2019 Pulwama Attack) में देश के कई जवान शहीद (Yousuf Chopan Gets Bail) हुए थे। इसके बाद इस मामले में कुछ गिरफ्तारियां भी हुई थी। इस मामले के आरोपी को अदालत ने इसलिए जमानत दे दी, क्योंकि NIA ने उसके खिलाफ जार्चशीट ही दाखिल नहीं की। NIA के ढीले रवैये के चलते पुलवामा हमले का संदिग्ध आरोपी अब जेल से बाहर आ गया है। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) में स्थित एक एनआईए (National Investigation Agency) अदालत ने 18 फरवरी, 2020 को यह आदेश दिया था, जिसमें कहा गया था कि अभियुक्त यूसुफ चोपन उर्फ ​​मेहराज-उद-दीन चोपन (Yousuf Chopan Gets Bail) , वैधानिक जमानत का हकदार था।

Pulwama Attack में जैश के साथ मिला था यह गद्दार

जमानत के लिए आवेदन इस आधार पर दायर किया गया था कि चोपन (Yousuf Chopan Gets Bail) लगभग 180 दिनों से हिरासत में था और जांच एजेंसी निर्धारित समय बीतने के बावजूद आरोप पत्र दाखिल नहीं कर पाई थी। NIA ने माना कि चोपन के संबंध में जांच करने की अवधि 11 फरवरी, 2020 को समाप्त हो गई थी और पर्याप्त सबूतों की कमी के कारण कोई आरोप पत्र दायर नहीं किया गया था। यह भी बताया गया कि एजेंसी द्वारा मामले में आगे की जांच की जा रही है। न्यायाधीश प्रवीण सिंह (Praveen Singh) ने आरोपी की दलील को स्वीकार कर लिया और 50,000 रुपये के निजी मुचलके व इतनी राशि का एक जमानत पेश करने की शर्त पर जमानत प्रदान कर दी। साथ ही उसे जांच में सहयोग करने और आवश्यकता पड़ने पर अदालत में पेश होने का भी निर्देश दिया है। इसके अलावा वह इस तरह का कोई भी अपराध नहीं करेगा, न ही किसी भी ऐसे व्यक्ति को प्रभावित करेगा जो मामले के संबंध में जानकारी देने में सक्षम हो या सबूतों के साथ छेड़छाड़ नहीं करेगा। इस खबर के सामने आने के बाद NIA ने जानकारी दी है जिसके मुताबिक युसुफ चोपन (Yousuf Chopan Gets Bail) को कभी भी पुलवामा हमले (Pulwama Attack) के आरोप में कभी भी गिरफ्तार नहीं किया गया।

Pulwama Attack : पाकिस्तानी कप्तान ने दिया ऐसा बयान

PSA के तहत जेल में बंद है युसुफ

वह 6 अन्य लोगों के साथ NIA के मामलों में गिरफ्तार किया गया था, जो जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) की साजिश से संबंधित थे, जिसमें 8 आरोपियों के खिलाफ 2 चार्जशीट दायर की गई थीं। जांच के दौरान 7 ओवर ग्राउंड वर्कर्स को गिरफ्तार किया गया था। अपर्याप्त सबूतों के कारण यूसुफ चोपन (Yousuf Chopan Gets Bail)  के खिलाफ चार्जशीट दायर नहीं की गई थी।

अहमद पटेल ने उठाए सवाल

इधर, इस मामले में अब राजनीति भी गरमा रही है। कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने NIA के चार्जशीट दाखिल न कर पाने पर और आरोपी को जमानत (Yousuf Chopan Gets Bail)  दिए जाने पर हैरानी जताई है। उन्होंने कहा है कि यह शहीदों का अपमान है। साथ ही उन्होंने सरकार पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं अन्य लोगों ने भी सोशल मीडिया पर इस तरह मिली जमानत को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। संदीप मुखर्जी नाम के एक यूज़र ने इस जमानत को लेकर ट्वीट किया और लिखा कि यह महज एक राजनीतिक घटनाक्रम था, इसलिए आरोपी को जमानत मिल गई है। 14 फरवरी, 2019 को पुलवामा जिले में जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर एक सीआरपीएफ (CRPF) की बस में विस्फोटकों से भरी एक कार घुसाई गई थी, जिसके कारण 40 सीआरपीएफ कर्मियों की मौत हो गई थी या शहीद हो गए थे। प्रतिबंधित आतंकवादी समूह, जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) ने हमले की जिम्मेदारी ली थी और जिस आत्मघाती हमलावर ने इसे अंजाम दिया था, उसका वीडियो जारी किया था।

Pulwama Attack को लेकर अफरीदी का ऐसा ट्वीट…

Prabhat Jain

Share.