VIDEO : प्रियंका गांधी वाड्रा गिरफ्तार

0

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गाँधी को गिरफ्तार (Priyanka Gandhi Vadra Arrested In Narayanpur ) कर लिया गया है। सोनभद्र में भूमि विवाद को लेकर हुए खूनी संघर्ष में 11 लोगों की मौत के सिलसिले में 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मृतकों को दफनाने को लेकर ग्रामीणों और स्थानीय प्रशासन के बीच कई घंटे तक चला गतिरोध देर रात को समाप्त हो गया। प्रियंका गाँधी पीड़ितों से मिलने के लिए पहुंची थी। जिला प्रशासन की इस कार्रवाई पर प्रियंका ने कहा कि मेरे वहां पर जाने से कोई कानून व्यवस्था पर असर नहीं पड़ने वाला।  उन्होंने कहा कि मुझे किसी कानून के तहत रोका गया।  प्रियंका गांधी धरने पर बैठ गई हैं।

Karnataka Floor Test LIVE : सीएम कुमार स्वामी ने कहा, बन ही जाएगी भाजपा सरकार

Priyanka Gandhi Vadra Arrested In Narayanpur :

भाजपा के पूर्व विधायक ने कमलनाथ का खून बहाने की खुलेआम धमकी दी  

जानकारी के अनुसार, प्रियंका गांधी सोनभद्र जा रही थी, तभी उन्हें रोका गया और फिर हिरासत में ले लिया गया। गिरफ्तारी के बाद प्रियंका गाँधी ने कहा कि मुझे जिला प्रशासन के अधिकारी ऑर्डर की कॉपी दिखाए मुझे किस नियम के तहत रोका गया है। प्रियंका गांधी के साथ ही कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है। वहीँ सोनभद्र के मूर्तिया गांव में धारा 144 लगी हुई है। इसके पहले प्रियंका सुबह 9:40 पर वाराणसी पहुंचने के बाद ट्रामा सेंटर में गईं. जहां उन्‍होंने सोनभद्र के घोरावल कोतवाली इलाके के धुम्मा गोलीकाण्ड में घायल हुए लोगों से हाल चाल पूछा।

मुझे नहीं पता ये लोग कहा ले जा रहे हैं

डीएम की गाड़ी में प्रियंका गांधी ने जाते वक्त है, मैं सिर्फ पीड़ित परिवार वालों से मिलने आई थी। मुझे नहीं पता यूपी पुलिस मुझे कहां लेकर जा रही है। लेकिन हम हर जगह जाने को तैयार हैं।

Bihar Chhapra Saran Mob Lynching Video : पशु चोरी के नाम पर भीड़ ने फिर बहाया मासूमों का खून

क्या था मामला

17 जुलाई को सोनभद्र जिले के घोरावल के मूर्तियां गांव में 90 बीघा जमीन के लिए खुनी संघर्ष हो गया था। ग्राम प्रधान और ग्रामीणों के बीच हुई हिंसक झड़प में 11 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में कई लोग घायल हुए थे, जिनका अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस मामले में सोनभद्र कांड में एडीजी की अध्यक्षता वाली समिति की रिपोर्ट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की कार्रवाई करते हुये एसडीएस और सीओ समेत पांच को निलंबित किया है। तीन सदस्यीय जांच के लिए कमेटी गठित की गई है।

कांग्रेस पर लगे आरोप

इस मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस ने ही जमीन विवाद की नींव 1955 में रखी थी।

Share.