website counter widget

किडनी मरीजों को राहत, घर पर खुद कर सकेंगे डायलिसिस

0

किडनी खराब होने की समस्या से जूझ रहे मरीजों के लिए एक खुशखबरी है। दरअसल जिन लोगों की किडनी खराब हो चुकी है उन्हें हर दूसरे दिन हीमाे-डायलिसिस कराने के लिए सेंटर पर जाना पड़ता है। लेकिन अब उन्हें हीमाे-डायलिसिस करवाने के लिए सेंटर पर जाने की कोई भी जरूरत नहीं है। जी हां केंद्र सरकार अब इन मरीजों की सुविधा के लिए उनके घर पर डायलिसिस की व्यवस्था शुरू करने जा रही है। इसके लिए सभी जरूरी तरियारियां भी कर ली गई हैं। लोकसभा चुनाव ख़त्म हो जाने के बाद सभी राज्य इस योजना को क्रियान्वित कर सकेंगे।

इलाज के बहाने डॉक्टर ने महिला को बनाया हवस का शिकार

खराब किडनी से जूझ रहे मरीजों की हीमो-डायलिसिस की जगह पेरिटोनियल डायलिसिस की जाएगी। लेकिन इसके लिए उन्हें किसी भी सेंटर पर जाने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिए इस योजना के तहत मरीजों को एक पेरिटोनियल किट प्रदान की जाएगी। इस किट के साथ-साथ मरीजों को कुछ दवाएं भी उपलब्ध कराई जाएगीं। इस किट की सहायता से मरीज खुद ही घर बैठे डायलिसिस कर सकते हैं। इस योजना को अगले 2 से 3 के भीतर लागू कर दिया जाएगा। इतना ही नहीं, सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को यह किट और दवाई पूरी तरह से मुफ्त में प्रदान की जाएगी। वहीं अन्य दूसरे मरीजों को भी काफी किफायती दामों में इस किट को दिया जाएगा।

पाकिस्तान की दुल्हनें चीन में बेची जा रही, गिरोह का पर्दाफाश

इस योजना को प्रधानमंत्री डायलिसिस प्रोग्राम के अंतर्गत विस्तारित किया जा रहा है। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि अगले 2 से 3 माह के भीतर ही इस योजना को पूर्ण रूप से लागू कर दिया जाएगा। आंकड़ों के अनुसार प्रतिवर्ष देश में सवा 2 लाख से अधिक मरीजों को डायलिसिस की आवश्यकता पड़ती है। इसी को देखते हुए सरकार ने आज से 2 वर्ष पूर्व प्रधानमंत्री डायलिसिस प्रोग्राम को शुरू किया था। इस योजना के तहत देश भर में अब तक 757 डायलिसिस सेंटर खोले जा चुके हैं। अब इस योजना को राष्ट्रीय डायलिसिस कार्यक्रम के अंतर्गत हर राज्य में लागू किया जाएगा।

रेप की दूसरी घटना मेरे शेड्यूल में नहीं : राहुल गांधी

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.