महामहिम ने मंच से उतरकर यह किया

0

भारत के राष्ट्रपति महामहिम रामनाथ कोविंद ने कानपुर (President Ramnath Kovind In Kanpur ) में आयोजित कार्यक्रम में प्रोटोकॉल तोड़ दिया| उन्होंने मंच से उतरकर (Ramnath Kovind Became Student Of The Year) ऐसा कुछ किया कि वहां उपस्थित सभी लोग देखते ही रह गए |

राष्ट्रपति ने अपने शिक्षक के पैर छुए 

दरअसल, सोमवार को जब अपने शहर कानपुर आए तो वे छात्र जीवन की यादों में खो गए। यहां आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने अपने शिक्षकों को सम्मानित किया| वे अपने गुरुजियों को देखकर भाव-विभोर हो गए| वे उनका आशीर्वाद लेने के लिए इतने आतुर दिखे कि उन्हें प्रोटोकॉल का भी ध्यान नहीं रहा| वे तुरंत मंच से उतरे और अपने गुरुजियों के पैर छूकर आशीर्वाद लिया। यह देख वहां उपस्थित सभी लोग अभिभूत हो गए|

आप मुझे भूले तो नहीं (Ramnath Kovind Became Student Of The Year)

राष्ट्रपति ने अपने शिक्षक के पैर छुए

राष्ट्रपति के स्कूली जीवन में उनके शिक्षक रहे प्यारेलालजी, जो 100 वर्ष पूरे कर चुके हैं, को सम्मानित करने के लिए राष्ट्रपति स्वयं मंच से नीचे उतरकर पहुंचे। राष्ट्रपति ने सर्वप्रथम प्यारेलालजी के पैर छुए और पूछा, “गुरु जी… आप मुझे भूले तो नहीं हैं।“

राष्ट्रपति ने अपने शिक्षक के पैर छुए

प्यारेलाल के साथ आई उनकी बहू ने बताया कि प्यारेलालजी ने राष्ट्रपति कोविंद की पीठ पर हाथ रखा और आशीर्वाद दिया। प्यारेलालजी ने बेहद धीमी आवाज में कहा, “आज मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। वो (राष्ट्रपति) बच्चा था।“ इसके आगे वे कुछ भी बोल नहीं पाए| राष्ट्रपति ने प्यारेलाल की बहू से उनका ख्याल रखने को कहा। कहा, किसी तरह की परेशानी हो तो मुझे बताइएगा।

Controversial Statement : केंद्रीय मंत्री का राहुल गाँधी पर विवादित बयान

सम्मानित होने पर शिक्षकों की प्रतिक्रिया

किदवई नगर में रहने वाले 85 वर्षीय त्रिलोकीनाथ टंडन अपने शिष्य के हाथों सम्मान पाकर बेहद गर्व महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविंद ने पैर छूकर आशीर्वाद लिया और मुझसे बोले कि आप सौ साल जिएं… मैंने भी कोविंद को बोला कि सौ साल के लिए तो मैं पहले से ही तैयार हूं। टंडन ने राष्ट्रपति से देश को बेहतर दिशा में आगे ले जाने को कहा।

राष्ट्रपति ने अपने शिक्षक के पैर छुए

Pulwama Terror Attack : पाकिस्तान को पैरों तले रौंदा  

राष्ट्रपति कोविंद को अकाउंट्स पढ़ाने वाले हरिराम कपूर ने बताया,“मैं उसका (राष्ट्रपति कोविंद) क्लास टीचर था। उस समय अध्यापक और छात्र के संबंध काफी मधुर हुआ करते थे। राष्ट्रपति कोविंद को मैंने आशीर्वाद दिया है कि तुम अच्छे से देश संभालो।

राष्ट्रपति ने अपने शिक्षक के पैर छुए

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सांसद डॉ.मुरलीमनोहर जोशी, कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, वीरेंद्र जीत सिंह, आदित्य शंकर वाजपेयी, रमाकांत मिश्र, भगवतप्रसाद शर्मा, सुरेंद्र कक्कड़, श्याम अरोड़ा, डॉ.अंगद सिंह, नंदिता सिंह, एचबीटीयू के कुलपति प्रो.एनबी सिंह, नीतू सिंह, डॉ.मनोज अवस्थी, डॉ. जीएन गुप्ता, आगरा विवि के कुलपति डॉ.अरविंद दीक्षित, डॉ. श्याम बाबू गुप्ता, डॉ.दिलीप सरदेसाई, डॉ.दिवाकर मिश्रा आदि मौजूद रहे।

जानिए कैसे होती है सर्जिकल और एयर स्ट्राइक

अंकुर उपाध्याय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.