स्कूली बच्चों का बोझ कम करने की तैयारी

0

स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के लिए एक अच्छी खबर आने वाली है| पढ़ाई के बोझ के तले दबे बच्चों का भार अब कम होने वाला है| सरकार अब जल्द ही पाठ्यक्रम को आधा कर सकती है|

बताया जा रहा है कि सरकार राष्ट्रीय शिक्षा नीति में बड़ा बदलाव करने की तैयारी कर रही है| इस बारे में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बच्चों को बड़ी राहत देते हुए ऐलान किया कि 2019 के शैक्षणिक सत्र से एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम को घटाकर आधा कर दिया जाएगा|

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, “पढ़ाई-लिखाई के साथ-साथ बच्चों के लिए फिजिकल एजुकेशन, जीवन कौशल और मूल्यपरक शिक्षा की भी आवश्यकता होती है| शिक्षा का मतलब केवल याद करना या उत्तर पुस्तिका में लिखना भर नहीं होता है| शिक्षा व्यापक है| एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम बेहद जटिल होता है, इसलिए सरकार ने इसे घटाकर आधा करने का निर्णय लिया है|” यह बदलाव कक्षा छठी से आठवीं कक्षा तक के बच्चों के लिए किया जा रहा है|

Share.