ममता की डूबती नैया के खिवैया बने प्रशांत किशोर!

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election Results 2019 ) में भाजपा की जीत के बाद कई सियासी समीकरणों में बदलाव आ रहे हैं। जहाँ कांग्रेस हार के बारे में जड़ें तलाश रही हैं वहीँ ममता बनर्जी भी आने वाले चुनाव के लिए अपनी पार्टी को मजबूत बनाने की कोशिश में जुटी हुई है। जनता दल-यूनाइटेड (Janata Dal (United) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee, Chief Minister of West Bengal) से मुलाकात की। इसके बाद से यह कहा जा रहा है कि किशोर अब टीएमसी में शामिल होने वाले हैं। जानकारी के अनुसार, सीएम ममता बनर्जी और प्रशांत किशोर के बीच साथ काम करने को लेकर सहमति बन गई है। एक महीने बाद प्रशांत और मुख्यमंत्री बनर्जी साथ काम शुरू करेंगे।

वृद्धाश्रम में भूख से तड़प रहे निराश्रित, एक बुजुर्ग की मौत

वाईएसआर कांग्रेस की जीत में बड़ी भूमिका

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस की जीत में रणनीतिकार प्रशांत किशोर की बड़ी भूमिका रही है। जगमोहन रेड्डी की पार्टी को बहुमत मिला। वायएसआर को 175 में से 150 सीटें मिली। चंद्रबाबू नायडू को हराकर आंध्रप्रदेश की सत्ता हासिल की। प्रशांत किशोर (Prashant Kishor News) अब ममता बनर्जी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे। कोलकाता में दो घंटे की बैठक के बाद ममता बनर्जी और प्रशांत किशोर के के बीच इस मुद्दे पर सहमति बनी है।

बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष डिफॉल्टर घोषित

नरेंद्र मोदी के थे रणनीतिकार

प्रशांत किशोर 2014 में नरेंद्र मोदी के रणनीतिकार थे। मोदी ने 2014 में बहुमत से सरकार बनाई थी। इसके बाद प्रशांत ने 2015 में नीतीश कुमार के मुख्य चुनावी रणनीतिकार की भूमिका निभाई थी। प्रशांत किशोर ने साल 2017 में उत्तर प्रदेश में हुए चुनाव में कांग्रेस के लिए रणनीति तैयार की थी, लेकिन तब उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। आंध्रप्रदेश का चुनाव परिणाम आने के बाद प्रशांत किशोर ने अपने संगठन आई-पीएसी (इंडियन पॉलिटिकल एक्शन) का हवाला देते हुए ट्वीट किया था, “आंध्र प्रदेश और सभी सहयोगियों को इस एकतरफा जीत के लिए धन्यवाद। नए मुख्यमंत्री को बधाई और बहुत शुभकामनाएं। ”

प्रज्ञा ठाकुर की तबियत बिगड़ी, NIA कोर्ट में पेश होना था आज

Share.