website counter widget

आतंकियों से एनसीपी नेताओं के संबंध

0

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Elections 2019) के लिए सभी पार्टी के शीर्ष नेताओं के बीच चुनावी दंगल शुरू हो गया है। पार्टियों के स्टार प्रचारकों ने जनता को लुभाने के लिए कमान संभाल रखी है। सभी जगह-जगह जाकर अपनी पार्टी के किए गए कार्यों का बखान और कई वादे और दूसरी पार्टी पर बयानों से हमला कर रहे हैं। ऐसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) भी महाराष्ट्र के आकोला (Akola of maharashtra) पहुंचे और वहाँ पर वे विपक्ष पर जमकर बरसें।

15 दिन में हेमा मालिनी के गाल जैसी सड़क बना देंगे: कैबिनेट मंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने अकोला में चुनावी रैली में कहा कि मैं हैरान हूं कि वीर छत्रपति शिवाजी की धरती पर राजनीतिक स्वार्थ के कारण आज कल ऐसी आवाजें उठाई जा रही हैं। जिसमें लोग खुले आम कह रहे हैं कि महाराष्ट्र के चुनाव में अनुच्छेद 370 का क्या लेना देना है। जम्मू कश्मीर का महाराष्ट्र से क्या लेना देना। ऐसी आवाज उठाने वालों को मैं कहना चाहता हूं कान खोलकर सुन लें (Maharashtra Assembly Election 2019)। जम्मू कश्मीर के लोग मां भारती की संताने ही हैं। सीमापार से फैलाए जा रहे हे आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए पूरा देश जम्मू कश्मीर के नागरिकों के साथ हैं। कश्मीर के लिए भारत के एक एक एक कोने से वीरों ने जान दी है।

शिवराज फिर बनने जा रहे सीएम

आतंकियों से एनसीपी नेताओं के संबंध

पीएम मोदी ने अपने भाषण में आगे कहा कि महाराष्ट्र का कोई जिला ऐसा नहीं होगा जहां के वीर सपूतों न जम्मू कश्मीर में जाकर मां भारती की सेवा के लिए बलिदान ना दिया हो। मुंबई धमाकों के गुनहगारों के साथ एनसीपी नेताओं के संबंध हैं। उन्होने आगे कि आर्टिकल 370 का फैसले से आप खुश हैं, ये जरूरी कदम था, मोदी ने ठीक किया, आपकी इच्छा पूरी कर रहा हूं। आपका आशीर्वाद बना रहेगा तो मोदी नया-नया काम करता रहेगा। आप लोग इतने खुश हैं, लेकिन उनके चेहरे की रोशनी गायब हो गई है, उनको दर्द हो रहा है। उन्हें ये एक भारत श्रेष्ठ भारत मंजूर नहीं है। उनको राजनीतिक फायदे के लिए बंटा हुआ भारत चाहिए। आज उनकी सारी चालें चौपट होती जा रही हैं।

INX Media Case : कानून की मार चिदम्बरम बार-बार गिरफ्तार

     – Ranjita Pathare

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.