गुजरात दंगे में पीएम नरेंद्र मोदी को क्‍लीन चिट

0

वर्ष 2002 में हुए गुजरात दंगों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट (Clean chit to PM Narendra Modi in Gujarat riots) दे दी गई है। यह क्लीन चिट (Gujarat Govt Gets Clean Chit) नानावटी कमीशन द्वारा दी गई। नानावटी आयोग को गुजरात दंगों की जांच करने का भार सौंपा गया था। पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर नानावटी आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि मुख्‍यमंत्री रहते नरेंद्र मोदी ने गोधरा कांड के बाद बिना बताए वहां का दौरा किया था, लेकिन प्रशासन को इस बात की जानकारी थी। यह रिपोर्ट गुजरात विधानसभा में पेश की गई है।

पूर्व सीएम ने बताया जल्द ही महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन  

स्कूल बस और ट्रक में भिड़ंत, आधा दर्जन बच्चे…

क्या था मामला

जब प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्‍यमंत्री थे, तब  गोधराकांड की घटना घटी थी (Gujarat Govt Gets Clean Chit)। घटना के बाद वे हालात का जायजा लेने के लिए घटनास्थल पहुंचे थे, लेकिन इसके बाद ही  उन  पर आरोप लग गया था कि वे तथ्‍यों को नुकसान पहुंचाने के लिए वहां पहुंचे थे। अब पेश की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि पीएम मोदी उस समय वे ट्रेन के कोच S-6 का निरीक्षण करने गए थे न कि तथ्यों को नुकसान पहुंचाने।पीएम मोदी पर तथ्यों को नुकसान पहुंचाने के साथ ही यह आरोप भी लगे थे कि मुख्‍यमंत्री आवास पर कुछ अधिकारियों की मीटिंग हुई थी, जिसमें कहा गया था कि पुलिस कुछ दिन कुछ भी नही करेगी, लेकिन इस बात के भी प्रमाण जांच के दौरान नहीं मिले। अब गुजरात विधानसभा में पेश की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि गोधरा ट्रेन कांड के बाद गुजरात में जो दंगे हुए, वे प्रायोजित नहीं थे। इसके पहले  नानावटी कमीशन ने आईपीएस आरबी श्रीकुमार, राहुल शर्मा और संजीव भट्ट के तथ्‍यों की भी जांच की थी।

Nobel Prize 2019: इस अंदाज में नोबेल लेने पहुंचे अभिजीत बनर्जी

 

       – Ranjita Pathare 

Share.