भारत ने बना डाली सबसे खतरनाक मिसाइल

0

नई दिल्ली: भारत के वैज्ञानिकों कि गिनती विश्व के सबसे बेहतरीन वैज्ञानिकों में होती है। पूरी दुनिया भारतीय वैज्ञानिकों का लोहा मानती है। स्वर्गवासी अब्दुल कलाम जी (Late Abdul Kalam) को आदर्श रखते हुए भारतीय वैज्ञानिकों ने रक्षा क्षेत्र में भी बहुत तरक्की कि है। भारत ने अब ऐसी मिसाइल बनाई है. जिसके बाद भारत को महाशक्ति बनाने से कोई नहीं रोक सकता है। आपको बता दें की पूरी तरह स्वदेशी तकनीक से निर्मित पिनाका गाइडेड रॉकेट लांच सिस्टमस (Pinaka Guided Rocket Launch System) के अपग्रेड संस्करण का ओडिशा (Pinaka guided rocket system) के समुद्री तट पर गुरुवार को सफल परीक्षण किया गया। जानकारी के अनुसार, महज 44 सेकंड में 12 रॉकेट दागने में सक्षम पिनाका मार्क-2 ने सभी लक्ष्यों को सफलतापूर्वक निशाना बनाया। इस रॉकेट के इसी साल मार्च में राजस्थान की पोखरण टेस्ट (Pokhran Test) रेंज में भी तीन सफल परीक्षण किए गए थे। अब यहां भी परीक्षण की सफलता को सेना की आर्टिलरी क्षमता बढ़ाने की दिशा में अहम कदम माना जा रहा है।

पाकिस्तान का भारत पर मिसाइल से हमला!

इस मल्टी बैरल रॉकेट लांच सिस्टम का यह परीक्षण दोपहर 12.05 बजे चांदीपुर की फायरिंग टेस्ट रेंज पर किया गया। पिनाका रॉकेट के फायर से लक्ष्य भेदने तक पूरे मार्ग पर विभिन्न रेंज सिस्टमों जैसे, रडार, इलेक्ट्रो ऑप्टिकल टारगेटिंग सिस्टम और टेलीमेट्री सिस्टम आदि के जरिये परीक्षण की निगरानी की गई। डीआरडीओ ने कहा कि दिन के समय किए गए परीक्षण के दौरान वेपन सिस्टम ने लक्ष्य को भेदने में उच्चतम सटीकता का प्रदर्शन किया।

APJ Abdul Kalam Jayanti : मिसाइलमैन कलाम जी की 88वीं जयंती पर सादर नमन

मिसाइल की विशेषता:-

इस दौरान परीक्षण के लिए तय किए गए सभी मानक सफलतापूर्वक हासिल किए गए। परीक्षण का पूरा काम रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन (DRDO) से जुड़े आयुध अनुसंधान व विकास प्रतिष्ठान (एआरडीई) के निदेशक डा. वी. वेंकटेश्वर राव, रिसर्च सेंटर इमारत (आरसीआई) के निदेशक बीएचवीएस नारायण मूर्ति और प्रूफ एंड एस्टेब्लिसमेंट (पीएक्सई) के निदेशक डीके जोशी की देखरेख में पूरा किया गया। आपको बता दें की 1986 में शुरू किया गया था इस सिस्टम का निर्माण और यह सिस्टम 214 मिमी बैरल वाले 12 रॉकेट से लैस है इस सिस्टम में हर वारहेड का वजन 250 किलोग्राम होता है और यह 80 किमी/घंटा की गति से करता है लक्ष्य पर हमला करता है.

अमेरिका को 30 मिनट में तबाह कर सकती है यह मिसाइल: चीन नेशनल डे परेड

-Mradul tripathi

Share.