क्या है Geneva Convention? जिससे भारत लौटेंगे पायलट अभिनंदन  

0

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए| इसके बाद भारत ने पाकिस्तानी आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाकर Surgical Strike2 की और लगभग 300 आतंकियों का सफाया कर दिया| इसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति बन गई| इसी बीच भारतीय विंग कमांडर अभिनव वर्धमान (Wing Commander Abhinandan Vardhman) को पाकिस्तानी सेना ने गिरफ्तार कर लिया| अब भारत की ओर से हमारे जवान को वापस लाने की तैयारियां की जा रही है| इसके लिए भारत जेनेवा कनवेन्शन ( Geneva Convention )का सहारा लेने वाला है|

IAF Air Strikes in POK Live Update: अभिनंदन की वापसी जल्द – सरकारी सूत्र

Image result for भारतीय पायलट अभिनदंन

क्या है Geneva Convention ? (What is Geneva Convention?)

जेनेवा समझौते के अंतर्गत किसी भी युद्धबंदी के साथ अमानवीय व्यवहार नहीं किया जा सकता, न ही उसे डराया धमकाया जा सकता है| समझौते में चार संधियां और तीन अतिरिक्त प्रोटोकॉल  भी शामिल हैं| इसे युद्ध के समय मानवीय मूल्यों को ध्यान में रखकर उनकी रक्षा के लिए बनाया गया है| किसी देश का सैनिक जैसे ही पकड़ा जाता है उस पर ये संधि लागू होती है| इसके साथ ही युद्धबंदी के साथ रैंक के अनुसार प्रोटोकॉल मिलता है| जेनेवा समझौते में दिए गए अनुच्छेद 3 के मुताबिक युद्ध के दौरान घायल होने वाले युद्धबंदी का अच्छे से उपचार किया जाना चाहिए| युद्धबंदियों से सिर्फ उनके नाम, सैन्य पद, नंबर और यूनिट के बारे में पूछा जा सकता है| इसके अलावा अन्य जानकारियां नहीं जुटाई जा सकती|

जेनेवा सम्मेलन में चार संधियां और तीन अतिरिक्त प्रोटोकॉल को मंजूरी दी गई थी जो अभिनन्दन जैसे युद्धबंदियों को अधिकार देते हैं कि उन्हें सही सलामत उनके मुल्क भेजा जाये |पहला जेनेवा समझौता 1864 में, दूसरा समझौता 1906 और तीसरा 1929 में हुआ| दूसरे विश्वयुद्ध के बाद 1949 में 194 देशों ने मिलकर चौथी संधि पर हस्ताक्षर किये थे|

#BringBackAbhinandan : पायलट अभिनंदन की रिहाई पर पाक ने रखी शर्त

Image result for Geneva Convention

इसके पहले भी हुई थी जवान की रिहाई

कारगिल युद्ध के दौरान भी भारतीय वायुसेना के फाइटर पायलट नचिकेता,  पाकिस्तान की गिरफ्त में फंस गए थे| इसके बाद  भारत सरकार ने उनकी रिहाई के लिए जेनेवा संधि का ही सहारा लिया था| इसके बाद पाकिस्तान ने नचिकेता को रेडक्रॉस को सौंप दिया था|

Image result for फाइटर पायलट नचिकेता

पायलट अभिनंदन को नहीं कर सकते प्रताड़ित

Abhinandan New Video : पाकिस्तानी सेना के दवाब में अभिनंदन का बयान

भारतीय पायलट अभिनंदन युद्धबंदी हैं, इसलिए जेनेवा समझौते के मुताबिक उनके साथ न तो दुर्व्यवहार किया जा सकता है और न ही उन्हें डराया-धमकाया जा सकता है| वहीं पाकिस्तानी विदेश मंत्री का कहना है कि जब दोनों देशों के बीच स्थिति सामान्य होगी तभी अभिनंदन वर्धमान को छोड़ने के बारे में पाकिस्तान खुले दिल से विचार करेगा|

   – रंजीता 

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

Share.