Nirbhaya Case: पवन जल्लाद ने कहा निर्भया के दोषियों को चौराहे पर होनी चाहिए फांसी

0

निर्भया के गुनहगारों की फांसी की तारीख तय कर दी गई है. 22 जनवरी की सुबह 7 बजे तिहाड़ जेल में चारों दोषियों को फांसी पर चढ़ाया जाएगा. ऐसे में अब सबकी निगाहें पवन जल्लाद पर टिकी हुई हैं. क्योंकि पवन जल्लाद (Pawan Jallad Taking Hanging Tips) चारों दोषियों के लिए साक्षात यमराज की भूमिका में होगा. पवन जल्लाद से जब पूछा गया कि क्या ऐसे गुनहगारों को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जानी चाहिए तो उसने कहा कि उसकी व्यक्तिगत भावना है कि ऐसे गुनहगारों को बीच चौराहे पर सूली पर चढ़ा देना चाहिए. हालांकि पवन जल्लाद ने कहा कि न्यायपालिका जो कर रही है, अच्छा कर रही है.

Nirbhaya Case: दोषी विनय शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की क्यूरेटिव पिटीशन

पवन जल्लाद  (Pawan Jallad Taking Hanging Tips) ने बताया कि वो तिहाड़ जेल जाकर दोषियों को फांसी देने के लिए बेताब है. इस बीच मेरठ जिला कारागार में पवन जल्लाद की हाजिरी रोजाना लग रही है और ये हाजिरी 15 जनवरी तक रोज लगेगी. पवन जल्लाद को मेरठ जिला कारागार में फांसी की बारीकियां भी समझाई जा रही हैं. जल्लाद के शहर के बाहर जाने पर भी फिलहाल जेल प्रशासन की तरफ से रोक लगा दी गई है.

Nirbhaya Case: निर्भया की मां से बोली दोषी मुकेश सिंह की मां- मेरे बेटे को माफ कर दो

मेरठ जिला कारागार के वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने पवन जल्लाद  (Pawan Jallad Taking Hanging Tips) को जेल बुलाकर उसकी उपस्थिति दर्ज कराई. उसकी रोजाना उपस्थिति के लिए रजिस्टर बन गया है और उसके शहर से बाहर जाने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है. वरिष्ठ जेल अधीक्षक बीडी पांडे को आलाधिकारियों की तरफ से भी मौखिक निर्देश दिए जा चुके हैं कि पवन जल्लाद को फांसी की बारीकियां बताई जाएं. ताकि फांसी लगाते समय वो विचलित न हो. जानकारी के अनुसार पवन को ये भी बताया गया है कि फांसी लगवाने की एवज में दिल्ली सरकार उसे मानदेय देगी. ये भी हो सकता है कि सरकार 15 जनवरी को पवन जल्लाद को रिहर्सल के लिए दिल्ली बुला ले.

Nirbhaya Case LIVE : दोषियों की फांसी तय, सुप्रीम कोर्ट ने की याचिका खारिज

-Mradul tripathi

Share.