भारतीय सेना में पाकिस्तानी जासूस

0

सेना के जवान देश की रक्षा करते हैं। वतन के लिए अपनी जान तक न्योछावर कर लेते हैं, लेकिन कहते हैं न कि अपवाद सभी जगह होते हैं। ऐसे ही नौसेना (Indian Navy)  में भी कुछ अपवाद मिले, जो देश से गद्दारी कर रहे थे। हालांकि अब वे पुलिस की गिरफ्त में हैं, लेकिन इससे सेना की सुरक्षा और गोपनियता पर सवाल उठने लगे हैं। आंध्र प्रदेश पुलिस (Andhra Pradesh Police ) ने शुक्रवार को पाकिस्तानी संपर्क वाले एक जासूसी रैकिट का पर्दाफाश करने का दावा करते हुए भारतीय नौसेना के 7 कर्मचारियों को इस मामले में गिरफ्तार (spy racket with Pakistani links) किया।

CAA की आग के बाद मोदी सरकार ने लगाया आपातकाल ?

सेना के गद्दारों को पुलिस ने पकड़ा

आंध्र प्रदेश पुलिस (आंध्र प्रदेश पुलिस ) ने भारतीय नौसेना के 7 कर्मचारियों को पाकिस्तानियों का साथ देने के अपराध में गिरफ्तार किया है। सभी लोगों से पूछताछ की जा रही है। इस बारे में पुलिस ने एक विज्ञप्ति जारी करके जानकारी दी। उसमे लिखा है कि पुलिस की खुफिया शाखा ने केन्द्रीय खुफिया एजेंसियों और नौसेना के खुफिया विभाग के साथ मिलकर ऑपरेशन डॉल्फिन्स नोज’ चलाया और इस जासूसी रैकिट का पर्दाफाश किया। प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। नौसेना के 7 कर्मचारियों और एक हवाला ऑपरेटर को देश के विभिन्न हिस्सों से गिरफ्तार किया गया है।

देश के लिए जनता का गुस्सा सिर-आंखों पर : मोदी

पकड़े गए आरोपियों के बारे में पुलिस ने आगे बताया कि कुछ अन्य संदिग्धों से भी पूछताछ की जा रही है। इस संबंध में विस्तृत जानकारी दिए बगैर पुलिस ने कहा कि पूरे मामले की जांच जारी है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार लोगों को अदालत में पेश किया जाएगा। इस रैकिट के तार पाकिस्‍तान से जुड़े होने का शक है। जासूसी रैकेट का भंडाफोड़ करने के लिए उनकी इंटेलिजेंस विंग सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसीज और नौसेना इंटेलिजेंस के साथ मिलकर अभी  भी काम किया जा रहा है। पुलिस अब इस बात कि जांच कर रही है कि इस रैकेट में और कितने लोग शामिल हैं । पकड़ाए गए सभी लोगों कि कॉल डिटेल की भी जांच की जा रही है।

डॉनल्ड ट्रम्प को अब छोडनी होगी राष्ट्रपति की कुर्सी

     – Ranjita Pathare 

Share.