मोदी की रैली पर आतंकी हमला!

0

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सख्त फैंसला लेने के लिए जाने जाते है हाल ही में उन्होंने कई बड़े फैंसले लिए है जिसमे नागरिकता कानून (National Register of Citizens ), राम जन्मभूमि(Ram janmabhoomi), अनुच्छेद 370 (Article 370), तीन तलाक (Triple talaq) जैसे मुद्दे शामिल हैं। बताया जा रहा है कि सरकार द्वारा लिए गए हालिया फैसलों से आतंकी बौखलाए हुए हैं। खुफिया एजेंसियों के इनपुट के बाद से एसपीजी समेत सभी सुरक्षा एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं। ( Pakistan terror group ) 22 दिसंबर को दिल्ली की रामलीला मैदान में भाजपा की महारैली के दौरान आतंकी गुट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बना सकते हैं। खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान स्थित आतंकी गुट पीएम मोदी पर हमला कर सकते हैं। एजेसियों ने इस खुफिया जानकारी को स्पेशल प्रोटक्शन ग्रुप और दिल्ली पुलिस को दे दी है।

Anti CAA protest : भैंसे भी कर रही हैं CAA के खिलाफ प्रदर्शन

खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट के अनुसार पाकिस्तान से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Terrorist organization Jaish-e-Mohammed) के आतंकी भारत भेजे जा चुके हैं। वे रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को होने वाली प्रधानमंत्री मोदी की रैली के दौरान हमला कर सकते हैं। ( Pakistan terror group ) इस रैली में एनडीए सरकार से जुड़े अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्री भी शामिल होंगे। खुफिया एजेंसियों ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। कहा गया है कि 12 दिसंबर को लाए गए नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), 9 नवंबर को हुए राम जन्मभूमि फैसले और 5 अगस्त को कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से प्रधानमंत्री पर ज्यादा खतरा पैदा हो गया है इसके अलावा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों को तबाही से भी आतंकी संगठन बौखलाएं हैं।

एक ईमानदारी महिला अधिकारी जिसे ईमानदारी की कीमत जान देकर चुकानी पड़ी

लश्कर और जैश पहले भी दे चुके है धमकी-

इससे पहले अक्टूबर में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने जानाकारी दी थी कि लश्कर-ए-तैयबा भारत में बड़े हमले की फिराक में है। जम्मू-कश्मीर में सेना की तरफ से लागू प्रतिबंधों के खिलाफ उसने प्रधानमंत्री पर हमले की साजिश रची थी। ( Pakistan terror group ) सितंबर 2019 में भी एजेंसी को जैश-ए-मोहम्मद के शमशे वानी का धमकी भरा पत्र मिला था। इसमें उसने अनुच्छेद 370 हटाने के लिए प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और एनएसए पर हमले की बात कही थी।

जयपुर बम ब्लास्ट के चारों दोषियों को फांसी की सजा

-Mradul tripathi

Share.