टोल प्लाजा पर रुकना जरूरी नहीं – नितिन गडकरी

0

राजमार्गों पर स्थित सभी टोल प्लाजा को लेकर आज एक बेहद बड़ी घोषणा की गई है। दरअसल अब प्लाजा की सभी लेन फास्टैग (Fastag) से जोड़ी जाएगी। यह बात खुद केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा की सभी लें को फास्टैग (Fastag) से जोड़ा जाएगा। आगामी 1 दिसंबर 2019 से टोल प्लाजा की सभी लें फास्टैग (Fastag) से जोड़ दी जाएंगी और टोल प्लाजा पर फास्टैग (Fastag) अनिवार्य होगा।

पीएम मोदी के सपनों को चूर-चूर करने पर आमादा शिवसेना!

आगे जानकारी देते हुए केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि वैसे तो फास्टैग (Fastag) की सिक्योरिटी कीमत 150 रुपए है लेकिन इसे पूर्णतः लागू किए जाने तक यानी 1 दिसंबर तक यह फ्री में दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी सिक्योरिटी के डेढ़ सौ रुपए सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। गौरतलब है कि देशभर में राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल प्लाजा की कुल संख्या 527 है। इन 527 टोल प्लाजा में से अभी तक 380 टोल प्लाजा की सभी लेन को फास्टैग से लैस किया जा चुका है। बाकी बचे 147 टोल प्लाजा को भी आगामी 1 दिसंबर तक फास्टैग से लैस कर दिया जाएगा।

अल्पसंख्यकों को बाबुओं की दया पर छोड़ना चाहते हैं मोदी

दरअसल फास्टैग एक सिस्टम है जो वाहनों को टोल प्लाजा पर रोके बिना ही रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) की मदद से टोल का भुगतान कर लेता है। इससे मुसाफिरों को समय नहीं गंवाना पड़ता। यह एक प्रीपेड टैग सुविधा होती है। FASTag को अपने वाहन के अगले शीशे पर लगाना होता है। इसके बाद जब आप किसी भी टोल प्लाजा से गुजरते हैं तो रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) की मदद से आपका बैंक अकाउंट जो नेशनल हाइवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पेमेंट वॉलेट से लिंक किया हुआ होता है स्वतः ही टोल का भुगतान कर देता है। नितिन गडकरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित 537 टोल प्लाजा में से 17 को छोड़कर बाकी सभी 1 दिसंबर तक फास्टैग से लैस कर दिए जाएंगे। 17 टोल प्लाजा भी धीरे-धीरे फास्टैग से जोड़े जाएंगे। अभी वे नए हैं इसलिए उन्हें अभी फास्टैग से नहीं जोड़ा जाएगा। वहीं जब नितिन गडकरी से पूछा गया कि फास्टैग के बारे में जानकारी कैसे प्राप्त की जा सकती है तो उन्होंने इसके लिए टोल फ्री नंबर (Fastag Toll Free Number) 1033 बताया है। उन्होंने कहा कि इस टोल फ्री नंबर से फास्टैग के संबंध में हर जरूरी जानकारी ली जा सकती है।

Video Viral : देखें कैसे बंगाल में कानून के नाम पर पुलिस कर रही हैवानियत

Prabhat Jain

Share.