Fast News में देखिए दिन भर की बड़ी ख़बरें | March 26, 2020 | आज की ताजा ख़बरें | News Headlines

0

नमाज पढ़ने वाले 150 के खिलाफ मुकदमा दर्ज
देशव्यापी लॉकडाउन के बावजूद उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में तीन मस्जिदों में सामूहिक रूप से नमाज पढ़ने वाले करीब 150 लोगों के खिलाफ मुकदमा किया गया है। संडीला कस्बे के बंजारों वाली मस्जिद में सौ लोगों और शहर कोतवाली के वैटगंज वाली मस्जिद में 35 और पाली कसबे में एक मस्जिद में 20 लोगों द्वारा नमाज पढ़े जाने की सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर नमाजियों को फटकार लगायी तथा नमाजी और मस्जिदों के इमाम के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पलायन रोकने के लिए सरकार की एडवायजरी
कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए जारी लॉकडाउन में प्रवासी कामगारों, मजदूरों का पलायन रोकने के लिए राज्य सरकारों को एडवाइजरी जारी की है। गृह मंत्रालय ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को परामर्श जारी कर बड़े पैमाने पर प्रवासियों, खेतिहर और औद्योगिक मजदूरों तथा असंगठित क्षेत्र के कामगारों का पलायन रोकने को कहा है।

मूडीज ने घटाया जीडीपी का अनुमान
कोरोना वायरस के चलते रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत के जीडीपी अनुमान को कैलेंडर वर्ष 2020 के लिए 5.3 फीसदी से घटाकर महज 2.5 फीसदी कर दिया है। ग्लोबल क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने पहले भारत के सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी में बढ़त 5.3 फीसदी रहने का अनुमान जताया था। कोरोना वायरस संकट को लेकर मूडीज ने कहा कि इससे वैश्विक अर्थव्यवस्था को बहुत बड़ा झटका लगेगा। साल 2019 के लिए देश की जीडीपी वृद्धि 5 फीसदी के आसपास रह सकती है।

आरबीआई की घोषणा से बाज़ार नीचे
कोरोना के की वजह से इकोनॉमी को बूस्टर डोज देने के लिए सरकार की ओर से शुक्रवार को रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में रेपो रेट कटौती की घोषणा की। इस वजह से सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में गिरावट आई। सेंसेक्स ने एक दिन पहले के मुकाबले 1500 अंक तक की गिरावट दर्ज की।

अब ईएमआई के लिए नो टेंशन
कोरोना के संकट के बीच आरबीआई ने लोन धारकों को राहत देने की घोषणा की है। आगामी तीन माह तक यदि कोई लोन धारक ईएमआई देने में असमर्थ है, तो उन पर बंैकों द्वारा पेनल्टी नहीं लगाई जाएगी। तीन माह बाद वे अपनी ईएमआई जमा कर सकेंगे।

आरबीआई के फैसले पर चिदंबरम ने उठाए सवाल
आरबीआई रेपो रेट में कटौती के फैसले का कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने स्वागत किया लेकिन उन्होंने मासिक ईएमआई लेकर आरबीआई की सलाह पर सवाल खड़े किए। पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैं रेपो रेट में कटौती के आरबीआई के फैसले और नकदी के लिए उठाए कदमों का स्वागत करता हूं। लेकिन ईएमआई की तिथि आगे बढ़ाने पर आरबीआई का निर्देश अस्पष्ट है। ऐसा लगता है कि यह अधूरे मन से किया गया है।’’

कर्मचारियों का 25 प्रतिशत बढ़ाएगी ये कंपनी
कोरोना के प्रकोप के बीच आईटी कंपनी कॉग्निजैंट भारत और फिलीपींस में अपने करीब दो तिहाई कर्मचारियों को अगले महीने 25 फीसदी अतिरिक्त सैलरी देगी। कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि एसोसिएट और उससे नीचे के स्तर के कर्मचारियों को अप्रैल महीने के लिए 25 फीसदी का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा। इससे भारत में कंपनी के करीब 1.30 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा।

राजस्थान सरकार का कर्मचारियांे को तोहफा
राजस्थान सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए 1 जुलाई 2019 से मंहगाई भत्ता 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 17 प्रतिशत कर दिया है। इसी माह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में संसद की एनेक्सी में हुई कैबिनेट की बैठक में केन्द्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डीए) में भी 4 फीसदी की वृद्धि को मंजूरी दी गई थी।

ईरानी मंे फंसे भारतीयों का मामला सुप्रीम कोर्ट में
ईरान में फंसे तीर्थयात्रियों के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई इस सुनवाई में याचिकाकर्ताओं ने बताया कि लगभग 250 तीर्थयात्री भोजन और होटल के बिना फंसे हुए हैं और सभी गरीब परिवारों से हैं। सरकार की ओर से इन लोगों को लाने की कोशिश नहीं की जा रही है।

दान देने पर ट्रोल हुए धोनी
शुक्रवार को एक और जहां सचिन तेंदुलकर ने 50 लाख रुपये देकर कोरोना से लड़ाई में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की, वहीं धोनी ने पुणे स्थित एक एनजीओ के माध्यम से 1 लाख रुपये का योगदान दिया। 800 करोड़ रुपए कमाने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की इस आर्थिक मदद को लेकर उनके फैंस ने सोशल मीडिया पर जमकर नाराजगी जताई। कई लोगांे ने उनकी मदद को नाकाफी बताया।

-Rahul Kumar Tiwari

Share.